September 24, 2020

अनंत चतुर्दशी पर गोविंददेवजी मंदिर में हुआ शालिगरामजी का अभिषेक

जयपुर, 2 सितम्बर। भाद्रपद चतुर्दशीयुक्त पूर्णिमा पर कल अनंत चतुर्दशी मनाई गई। मंदिरों और घरों में भगवान विष्णु की विशेष पूजा-आराधना की गई। वहीं दूसरी तरफ गणेश चतुर्थी पर घर-घर विराजे गणेशजी को कल विसर्जन किया। गोविंददेव जी मंदिर की बात करें तो कल शालिगरामजी का श्रृंगार कर विशेष अभिषेक किया। ठाकुरजी को खीर का भोग लगाया गया। भक्तों ने रेशम या कपास से बने धागे से अनंत बनाकर पूजन किया। अनंत सूत्र को भगवान विष्णु की पूजा करने के बाद बांधा गया। इधर पानों का दरीबा स्थित श्रीसरस निकुंज में शुक संप्रदाय पीठाधीश्वर अलबेली माधुरीशरण महाराज के सान्निध्य में ठाकुर राधा सरस बिहारी सरकार को अनंत धारण कराए गए। पुरानी बस्ती स्थित गोपीनाथजी, रामगंज स्थित लाड़लीजी, चौड़ा रास्ता स्थित राधा दामोदरजी मंदिर सहित अन्य मंदिरों में अनंत चतुर्दशी पर ठाकुरजी की विशेष पूजा अर्चना हुई। लोगों ने घरों में अनंत बनाकर उनकी पूजा की और भगवान अनंत या भगवान विष्णु की कथा सुनी।

गणेश प्रतिमा का किया विसर्जन: घर और मोहल्लों से विराजित गणेशजी की प्रतिमा को गणपति बप्पा मोरिया, अगले बरस तू जल्दी आ… के जयकारे के साथ विसर्जन किया गया। कोरोना के कारण पहली बार गणेश विसर्जन शोभायात्रा के रूप मेें न होकर सादगीपूर्वक हुआ।