September 22, 2020

अब सामने आई कलह

  • चिराग पासवान ने मोदी को लिखा पत्र
  • नीतीश कुमार से जनता खुश नहीं?

पटना, 15 सितम्बर (एजेंसी)। लोक जन शक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान ने एक बार फिर सीएम नीतीश कुमार से अपनी तल्खी का इजहार किया है। अब यह मामला सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक पहुंंच गया है। सूत्रों से खबर है कि चिराग पासवान ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कहा है कि बिहार की जनता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (ष्टरू के कामकाज से खुश नहीं है। सरकार से लोगों की इस नाराजगी की वजह से विधानसभा चुनाव के परिणाम प्रभावित हो सकते हैैं। हालांकि, चिराग ने पीएम मोदी को जो पत्र लिखा है, उसे उन्होंने सार्वजनिक नहीं किया है।
सूत्र बताते हैं कि चिराग ने अपने पत्र में कोविड-19 की बिहार में स्थिति और उससे संबंधित आंकड़े को लेकर सरकार पर संशय व्यक्त किया है। एलजेपी अध्यक्ष ने यह स्पष्ट किया है कि लोजपा संसदीय बोर्ड की बैठक में उन्हें जो जानकारी दी गयी है, उसी के आधार पर वह यह पत्र लिख रहे हैैं। उन्होंने बिहार में अफसरों के कामकाज के रवैये पर भी टिप्पणी की है। बता दें कि शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा की मुलाकात हुई थी। तब यह कहा गया था कि एलजेपी और बीजेपी सीएम नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही बिहार चुनाव लड़ेगी। नड्डा ने पार्टी कार्यकर्ताओं को गठबंधन के लिए काम करने को कहा था। साथ ही स्पष्ट किया था कि नीतीश के नेतृत्व में ही एनडीए चुनावी मैदान में जा रहा है। न केवल भाजपा, बल्कि एनडीए के घटक दल जदयू व लोजपा के उम्मीदवारों को भी जीत दिलानी है। उन्होंने भरोसा दिया कि चुनाव में सम्मानजनक समझौता होगा।

एनडीए में सब ठीक-ठाक नहीं
हालांकि, इसके बाद चिराग की ओर से बिहार सरकार के कामकाज को लेकर प्रधानमंत्री को लिखा ये पत्र जाहिर करता है कि एनडीए में सब कुछ ठीक-ठाक नहीं है। गौरतलब है कि शुक्रवार को एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान के बारे में केंद्रीय मंत्री व एलेजपी के संस्थापक रामविलास पासवान ने कहा था कि वे चिराग के हर फैसले के साथ मजबूती से खड़े रहेंगे। साथ ही विश्वास जताया था कि चिराग पार्टी को नयी ऊंचाइयों तक ले जाएंगे।

बिहार की 8 योजनाओं का आज आगाज करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी
उधर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार को बिहार को 545 करोड़ रुपये की तीसरी सौगात देंगे। इसके तहत वो राज्य की शहरी विकास की 8 महत्वपूर्ण योजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। मोदी 152 करोड़ रुपये की लागत से तैयार पटना के बेउर और कर्मलीचक सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का उद्घाटन करेंगे । 323 करोड़ की लागत से पेयजल आपूर्ति की तीन योजनाओं का उद्घाटन करेंगे। इसके तहत 41 करोड़ की सीवान , 32 करोड़ की बक्सर जलापूर्ति योजना और 52 करोड़ की लागत से छपरा में जलापूर्ति योजना का शुभारंभ करेंगे।