Sun. May 31st, 2020

अम्फान ने दिखाए तबाही के नजारे

सुपर साइक्लोन के चलते प. बंगाल में 72 मौतें

कोलकाता, 22 मई (एजेंसी)। पश्चिम बंगाल में सुपर साइक्लोन अम्फान के उपस्थिति दर्ज कराने के 24 घंटे बाद यहां भारी तबाही देखने को मिली है। राज्य में चक्रवात के कारण अब तक कम से कम 72 लोगों की मौत हो गई है। कोलकाता हवाईअड्डे के दृश्य राज्य में हुए नुकसान को बया कर रहे हैं। क्षतिग्रस्त एयरपोर्ट पर खड़े विमान नदी में डूबे प्रतीत होते हैं। कुछ लोगों का मानना है कि शहर में आया यह साइक्लोन सबसे विनाशकारी चक्रवात है। वर्ष 1737 में कलकत्ता में आए चक्रवात से कुछ लोग ने इसकी तुलना की जबकि अन्यों ने कहा कि पिछले कुछ दशकों में ऐसा कुछ कभी नहीं देखा। घर तबाह होने के साथ ही बड़े पैमाने पर पेड़ उखड़ गए हैं और शहर में प्रतिष्ठित संरचनाओं को बहुत नुकसान पहुंचा है।लैंडलाइन के बाधित होने और घंटों तक बिजली नहीं रहने के कारण लोगों को बिना बहारी संपर्क के उग्र तूफान से गुजरना पड़ा। हालांकि भयंकर चक्रवाती तूफान गुरुवार को कमजोर हुआ और 27 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के साथ कोलकाता के उत्तर-उत्तरपूर्व में बांग्लादेश की ओर बढ़ा।

मोदी कोलकाता पहुंचे

कोलकाता, 22 मई (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अम्फान से पश्चिम बंगाल और ओडिशा में हुई तबाही का हवाई सर्वे से नुकसान का आंकलन करने आज कोलकाता पहुंचें। मोदी 83 दिनों बाद दौरे पर निकले हैं। मोदी सुबह साढ़े 10 बजे कोलकाता एयरपोर्ट पर पहुंचें वहां से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ नार्थ 24 और साउथ 24 परगना जिलों का एरियल सर्वे कर नुकसान का जायजा लिया। मोदी दोपहर बाद ओडिसा पहुंचकर मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के साथ अम्फान से हुई तबाही का हवाई सर्वे करेंगे।