August 14, 2020

आवासन मंडल ने तोड़ा अपना ही रिकॉर्ड

  • महज 12 दिन में बिकीं 1213 सम्पत्तियां, मिला 178 करोड़ रुपए का राजस्व
  • ई-ऑक्शन में 35 दिन में 162 करोड़ रुपए की 1010 सम्पत्तियां बेचकर बनाया था रिकॉर्ड

जयपुर, 2 जुलाई। बुधवार नीलामी उत्सव के तहत सभी को किश्तों में आवास योजना में आवासन मंडल ने अपना ही विश्व रिकॉर्ड तोड़ते हुए महज 12 दिन और 4 बुधवारों में 178 करोड़ रुपए मूल्य की 1213 सम्पत्तियां बेचकर नया कीर्तिमान बनाया है। उल्लेखनीय है कि मंडल द्वारा गत वर्ष सितम्बर माह में चलाए गए ई-ऑक्शन योजना में महज 35 दिनों में 1010 सम्पत्तियां बेचकर 162 करोड़ रुपए का राजस्व अर्जित कर विश्व रिकॉर्ड बनाया था। इस रिकॉर्ड को वल्र्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड द्वारा मान्यता दी गई थी। फरवरी माह में आयोजित राजस्थान आवासन मंडल के स्वर्ण जयंती समारोह में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और आवासन आयुक्त पवन अरोड़ को वल्र्ड बुक ऑफ रिकॉर्डस द्वारा इस सम्बंध में प्रमाण पत्र भी दिया गया था।
मंडल द्वारा 1 जून, 2020 को बुधवार नीलामी उत्सव के तहत सभी को किश्तों में आवास योजना शुरू की थी। इस योजना में पहले बुधवार को 381 सम्पत्तियां बिकीं, जिससे 58 करोड़ 22 लाख रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ। दूसरे बुधवार को 320 सम्पत्तियां बिकीं, जिससे 45 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ, तीसरे बुधवार को 257 सम्पत्तियां बिकी, जिससे मंडल को 34 करोड़ रुपए का राजस्व मिला और इस बुधवार को 255 सम्पत्तियां बिकीं और मंडल ने 41 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त किया। आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि इस बुधवार को जयपुर वृत्त प्रथम में 32 आवास बिके, जिससे मण्डल को 4 करोड़ 24 हजार रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ। जयपुर वृत्त द्वितीय में 48 आवास बिके, जिससे मण्डल को 6 करोड़ 40 लाख रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ। जयपुर वृत्त तृतीय में 14 आवास बिके, जिससे मण्डल को 2 करोड़ 47 लाख रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ।

अलवर वृत्त में 86 सम्पत्तियां बिकीं, जिससे मण्डल को 18 करोड 57 लाख रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ। कोटा वृत्त में 19 आवास बिके, जिससे मण्डल को 2 करोड़ 37 लाख रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ। जोधपुर वृत्त प्रथम और द्वितीय में 15 आवास बिके, जिससे मण्डल को 2 करोड़ 25 लाख रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ। बीकानेर वृत्त में 18 आवास बिके, जिससे मण्डल को 1 करोड़ 75 लाख रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ। उदयपुर वृत्त में 22 आवास बिके, जिससे मण्डल को 2 करोड़ 83 लाख रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ। इसके साथ ही प्रताप एवेन्यू में भी छायादार और फूलों वाले पेड़ लगाने के लिए विशेष रूप से निर्देशित किया।

नवीन परियोजनाओं का औचक निरीक्षण
जयपुर चौपाटी प्रताप नगर व मानसरोवर, शिक्षक एवं प्रहरी आवासीय योजना, कोचिंग हब और सिटी पार्क परियोजनाओं का किया निरीक्षण आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने बुधवार को आवासन मंडल की ओर से जयपुर चौपाटी प्रताप नगर व मानसरोवर, मुख्यमंत्री शिक्षक एवं प्रहरी अवासीय योजना, कोचिंग हब और मानसरोवर सिटी पार्क परियोजना का औचक निरीक्षण किया।

सभी के लिए किश्तों में आवास योजना
नीलामी उत्सव योजना के तहत सभी के लिए किश्तों में आवास योजना के तहत 39 शहरों की 45 योजनाओं में 50 प्रतिशत तक छूट पर आवास उपलब्ध कराए जा रहे हैं। मंडल इतिहास में पहली बार इतनी भारी छूट के साथ 13 वर्ष की आसान 156 मासिक किश्तों पर आमजन को आवास उपलब्ध हो रहे हैं। उल्लेखनीय है कि इस योजना में 1 जून से पंजीकरण और 8 जून से ई-बिड सबमिशन प्रारंभ किया गया था।

बिड में भाग लेने की प्रक्रिया है अत्यंत सरल और आसान
नीलामी उत्सव के तहत सभी को किश्तों में आवास योजना के अन्तर्गत ऑनलाईन बिड की प्रक्रिया बेहद सरल और आसान है। आवेदक आवासन मण्डल के सभी कार्यालयों की हैल्प डेस्क, घर बैठे या ई-मित्र पर जाकर अपनी बिड/नीलामी प्रस्ताव प्रत्येक सोमवार को सुबह 10 बजे से बुधवार सांय 4 बजे तक ऑनलाइन प्रस्तुत कर सकता है। इन प्रस्तावों को पूर्ववत प्रत्येक बुधवार सांय 4.30 बजे ऑनलाइन ही खोला जाएगा एवं सफल बिडदाता को किश्तों पर आवास आवंटित किया जाएगा। इस योजना से संबंधित नियम, शर्तों, उपलब्ध आवासों की सूची, आरक्षित दर, छूट का प्रतिशत एवं ऑनलाइन प्रस्ताव देने की प्रक्रिया आवासन मण्डल की वेबसाइट पर देखी जा सकती है।