Sun. May 31st, 2020

इन वॉरियर्स पर नहीं गया किसी का ध्यान

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 23 मई। दो महीने से कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन में अपना घर चलाने और आपके घर का चूल्हा जलाने के लिए जयपुर की चारदीवारी क्षेत्र में अपनी जान दांव पर लगाकर करीब 120 हॉकर्स सिर्फ 29 रुपये प्रति सिलेंडर मिलने वाली कमाई के लिए 3 हजार घरों पर सिलेंडर सप्लाई का काम कर रहे हैं। चारदीवारी क्षेत्र में करीब 80 हजार से ज्यादा एलपीजी उपभोक्ता हैं। इनमें घर-घर सिलेंडर पहुंचाने का काम करते हैं हॉकर यानी कि एक दिन में 3000 घरों तक एलपीजी की सप्लाई की जाती है। एक हॉकर के इन दिनों प्रतिदिन 20 से 25 घरों तक सिलेंडर पहुंचाने का काम करता है। यदि हॉकर गैस सिलेंडर गोदाम से ले कर उपभोक्ता तक पहुंचाता है तो उसे प्रति सिलेंडर 29 और डिस्ट्रीब्यूशन पॉइन्ट से ले जाता है तो 20 रुपये प्रति सिलेंडर उसे मिलता है। जिससे प्रतिदिन 500 से 600 रुपये की कमाई हो जाती है।

कोई वॉरियर्स नहीं मानता
राजस्थान एलपीजी डिस्ट्रीब्यूटर एसोसिएशन महासचिव कार्तिकेय गौड़ का कहना है कि कोरोना काल में हर किसी को वॉरियर्स का तमगा दिया जा रहा है लेकिन असली हीरो हमारे हॉकर्स हैं जिन्हें कोई वॉरियर्स नहीं मानता।