October 27, 2020

इरोज नाउ ने कोविड-19 के बीच सकारात्मकता का संदेश फैलाने के लिए मिलाया रैपर एबी वायरल संग हाथ

जैसे कोरोनोवायरस दुनिया भर में कहर बरपा रहा है, ऐसे में सभी क्षेत्रों के प्रख्यात सेलेब्स लोगों से अपने घर पर रहने का आग्रह कर रहे हैं।  देश के ऐसे कठिन समय में सकारात्मक संदेश फैलाने का जिम्मा इरोज नाउ ने लिया है। इस प्रीमियम ओटीटी प्लेटफॉर्म ने यूट्यूब स्टार और रैपर एबी वायरल के साथ हाथ मिलाया है जो ‘रैप ऑफ होप’ नामक एक गानें के साथ महामारी के बारे में जागरूकता फैलाएंगे।
पहले से ही इंटरनेट पर वायरल हो रहे इस गानें को कई मीडिया पोर्टल्स द्वारा शेयर किया जा रहा है और इसे बहुत प्यार मिल रहा है।  जैसा कि माननीय प्रधान मंत्री द्वारा घोषणा की गई है, लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाया गया है और ऐसे समय में,  इरोज नाउ म्यूज़िकल अधिकारियों, पुलिस, मेडिकल स्टाफ और सैनिटरी कर्मचारियों के प्रति आभार व्यक्त करेगा।  ये गाना इरोज नाउ के सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर रिलीज़ किया गया है, इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महत्वपूर्ण निर्देश भी शामिल हैं। गीतकार रणजीत सिंह ढंडवार द्वारा लिखित इस गानें में युट्यूबर लॉकडाउन के समय क्या करना चाहिए और क्या नही करना चाहिए इस बारे में बताते हैं। यह गाना दर्शकों को व्यावहारिक होने, सामाजिक कलंक से परे होकर एक साथ आने और संकट के समय प्रियजनों की सुरक्षा के लिए आवश्यक सावधानी बरतने का संदेश देता है।  ‘रैप ऑफ़ होप’ एक प्रमुख संदेश के साथ समाप्त होता है, ‘सेव द वर्ल्ड, डू इट टुगेदर ’।  गानें का संगीत प्रतिभाशाली जहान शाह द्वारा निर्मित है। ऐप एनी की एक रिपोर्ट के अनुसार, इरोज नाउ ने दर्शकों को अपने #StaySafe अभियान के साथ व्यस्त रखने और उनका मनोरंजन करने में बड़ा योगदान दिया है, जिसमें उपभोक्ता 21 अप्रैल 2020 से पहले प्रीमियम ओटीटी प्लेटफॉर्म की सदस्यता लेने वालों के लिए दो महीने की मुफ्त इरोज़ नाउ सदस्यता मिलेगी। इरोज ग्रुप की चीफ़ कंटेंट ऑफिसर रिद्धिमा लुल्ला ने कहा, “शुरू से ही, हमारा प्रयास दर्शकों का मनोरंजन और उन्हें शिक्षित करने के लिए रहा है। हमें खुशी है कि हम सोशल मीडिया के माध्यम से समाज में अपना योगदान देने में सक्षम हैं।  हम वास्तव में आशा करते हैं कि हमारी पहल सकारात्मकता और लोगों के जीवन में आशा की किरण लाएगी।”  इरोज नाउ द्वारा इस विशेष गैर-लाभकारी पहल का ध्यान रखते हुए, आइए हम उम्मीद करते हैं कि दुनिया भर में भारतीय इस महामारी से लड़ने की हिम्मत जुटा पाएंगे और पहले से अधिक मजबूत रहेंगे।