Mon. Feb 18th, 2019

ईवीएम चोर मशीन: फारूक

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 11 फरवरी। जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की वकालात करते हुए कहा कि केंद्र सरकार को बहुमत का डर सता रहा है। ममता ने बड़ी रैली की थी जिसमें लाखों लोग शामिल हुए थे, जिससे केंद्र सरकार घबरा गई और माहौल बिगाडने का प्रयास कर रही है। फारूक अब्दुल्ला रविवार को अजमेर आए। अल सुबह उन्होंने ख्वाजा गरीब नवाज की दरगाह में हाजरी दी। सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि महागठबंधन देश को मजबूती देगा। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने देश के युवाओं को नौकरी देने का वायदा किया था। लेकिन सरकार नौकरी देने में नाकाम रही। देश के किसानों के हालात खराब हैं। सुनने वाला कोई नहीं है। अब्दुल्ला ने कहा कि कश्मीर का मसला राजनैतिक है। बातचीत के जरिये ही सुलझा जा सकता है। आने वाली सरकार जो भी होगी बातचीत होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर के चुनाव भी लोकसभा चुनाव के साथ करवा दिए जाने चाहिए। लोकसभा चुनाव शांतिपूर्व होने चाहिए।