September 27, 2020

एक्सप्रेस ट्रेनों में नहीं चलेंगे कोच अटेंडेंट

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 21 अगस्त। एक्सप्रेस ट्रेनों की एसी बोगियों में अब कोच अटेंडेंट नहीं चलेंगे। रेलवे प्रशासन उनका करार खत्म करने की तैयारी में है। साथ ही आने वाले दिनों में यात्रियों को यूज एंड थ्रो (उपयोग करो और फेंको) बेडरोल (कंबल,चादर, तकिया) देने पर विचार कर रहा है। फिलहाल कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए रेलवे प्रशासन ने स्पेशल ट्रेनों से बेडरोल हटा दिया है। ऐसे में कोच अटेंडेंट का कार्य भी ठप है। जानकारों का कहना है कि कोच अटेंडेंट की सुविधा देने वाली फर्मों से रेलवे का अनुबंध आगे नहीं बढ़ेगा। यात्रियों को बेडरोल नहीं देने से रेलवे का खर्च कम हुआ है। बेडरोल की धुलाई करने वाली मैकेनाइज्ड लाउंड्री भी बंद है। हालांकिए रेलवे यात्रियों से पूरा किराया वसूल रहा है।

गंतव्य तक जाते हैं कोच अटेंडेंट: कोच अटेंडेंट ट्रेन के साथ गंतव्य तक जाते हैं। फिर उसी ट्रेन से वापस होते हैं। रास्ते में प्रत्येक यात्रियों तक बेडरोल पहुंचाना और उन्हें स्टेशनों की जानकारी देना उनकी जिम्मेदारी होती है। बेडरोल की पूरी जिम्मेदारी कोच अटेंडेंट के पास ही होती है।