Fri. Nov 15th, 2019

ओलिंपिक कोटा की दौड़ में चिंकी

विवान और ईशा ने जीते गोल्ड

दोहा, (एजेंसी)। चिंकी यादव ने कल एशियाई निशानेबाजी चैंपियनशिप के पहले क्वालिफाइंग दौर के बाद पांचवें स्थान पर रहते हुए महिला 25 मीटर पिस्टल में दूसरा ओलंपिक कोटा हासिल करने की भारत की उम्मीदों को जीवंत रखा। चिंकी ने 292 अंक जुटाए और आज वह फाइनल में जगह बनाने की कोशिश करेंगी, जिससे उन्हें टोक्यो ओलंपिक खेलों के लिए उपलब्ध चार कोटा स्थानों के लिए दावेदारी पेश करने का मौका मिलेगा। राही सर्नोबत पहले ही अन्य टूर्नामेंट के जरिए भारत के लिए इस स्पर्धा में एक ओलिंपिक कोटा हासिल कर चुकी हैं।
जूनियर स्पर्धाओं में भारत का दबदबा रहा जिसमें विवान कपूर और ईशा सिंह ने 2-2 स्वर्ण पदक जीते। भारत ने अब तक 23 में से 18 पदक जूनियर वर्ग में जीते हैं। जूनियर पुरुष ट्रैप स्पर्धा में विवान ने स्वर्ण पदक जीता, जबकि हमवतन भवनीश मेंदीरत्ता ने रजत पदक हासिल किया। विवान और भवनीश ने मनवादित्य सिंह राठौड़ के साथ मिलकर टीम स्पर्धा का स्वर्ण पदक भी जीता। पहले दिन मनीशा केर के साथ मिलकर जूनियर ट्रैप मिश्रित टीम स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीतने वाले विवान क्वालीफिकेशन में 125 में से 120 अंक जुटाकर शीर्ष पर रहे थे। भवनीश 118 अंक के साथ दूसरे स्थान पर रहे जबकि मानवादित्य 109 अंक के साथ आठवें स्थान पर रहते हुए फाइनल में जगह नहीं बना पाए। विवान फाइनल में 50 में से 45 अंक जुटाकर शीर्ष पर रहे। भवनीश ने 42 अंक के साथ रजत जीता। इससे पहले ईशा ने भी 10 मीटर एयर पिस्टल महिला जूनियर स्पर्धा में व्यक्तिगत और टीम खिताब जीते।