November 30, 2020

किसकी बनेगी शहरी सरकार बस, कल तक का इंतजार

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 2 नवम्बर। प्रदेश की तीन नगर निगम जयपुर ग्रेटर, जोधपुर दक्षिण और कोटा दक्षिण में दूसरे चरण के चुनाव में कुल 59.96 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया है। अब सभी की नजर 3 नवंबर पर टिकी हुई है। 3 नवंबर को सुबह 9 बजे से मतगणना शुरू हो जाएगी। शाम तक चुनाव परिणाम आ जाएंगे। इन चुनाव परिणामों के बाद महापौर और उपमहापौर चुनने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। 4 नवंबर को महापौर के लिए प्रात: 10 बजे से अपराह्न 2 बजे तक मतदान होगा। मतदान बाद मतगणना करवाई जाएगी। 11 नवंबर को उप महापौर का चुनाव होगा।

भाजपा प्रत्याशी प्रशिक्षण के नाम पर होटल भेजे
उधर बगावत या खरीद-फरोख्त के डर से भाजपा ने रविवार को ही जयपुर नगर निगम हेरिटेज प्रत्याशियों को प्रशिक्षण का नाम देकर एक होटल में पहुंचा दिया। जयपुर ग्रेटर प्रत्याशियों को भी आज होटल में शिफ्ट किया जाएगा। कोटा और जोधपुर में भी बाड़ेबंदी की खबर है। हेरिटेज में मतदान के बाद भाजपा 55 सीटों पर जीत की बात कही है। हैरिटेज के 90 से 95 के बीच प्रत्याशियों को होटल में शिफ्ट किया जा चुका है।

इनके तत्काल बाद होंगे पंचायती राज के चुनाव
नगर नगर के चुनावों से फ्री होते ही राज्य चुनाव आयोग पंचायती राज चुनावों के लिये जुटेगा। आयोग ने पंचायती राज चुनावों की भी तैयारियां पूरी कर ली है। अब राजनीति बड़े शहरों से निकलकर गांवों में जायेगी।

सीएम समेत कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा लगी है दांव पर
नगर निगम के चुनावों में सीएम अशोक गहलोत समेत बीजेपी-कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्षों तथा केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत व राज्य सरकार के कई मंत्रियों की साख दांव पर लगी है। इन चुनावों में दोनों पार्टियों ने पूरा जोर लगाया है। इन चुनावों के परिणामों का असर पंचायती राज चुनावों पर भी पड़ेगा।