September 19, 2020

कृषि फार्म पौंड से आप भी कर सकते हैं सालाना लाखों की आय

एक ही पौंड से ले सकते हैं दस तरह के फायदे, कम लागत और थोड़ी सी जमीन पर लग सकता है यह उद्योग, श्वेत-हरित के साथ नीली क्रांति

विमलेश शर्मा
आप कृषक हैं और आपके पास एक से दो एकड़ जमीन है और उसमें वर्षा के पानी को स्टोरेज करने के लिए अगर आपने फार्म पौंड बना रखा है तो अकेले पौंड वाले भू-भाग पर एक नहीं पूरे दस तरह के फायदे ले सकते हैं। इससे लाखों रुपए की आमदनी की जा सकती हैं। फार्म पौंड युवाओं के लिए स्टार्टअप से कम नहीं हैं।

कैसे करें
मान लीजिए आपके पास दो एकड़ का कृषि फार्म है। उसमें सबसे पहले आपको फार्म पौंड बनाना पड़ेगा। पौंड पर सरकार से नब्बे हजार से 20 लाख रुपए तक यानी 75 प्रतिशत सब्सिडी मिलती है। उदाहरण के तौर पर आपको एक बीघा में फार्म पौंड बनवाना है तो उस पर करीब साढ़े छह लाख रुपए के आसपास का खर्चा बैठता है। इस पर सरकार से पांच लाख रुपए की सब्सिडी मिल जाएगी। अगर आपके पास खुद का ट्रैक्टर व खुदाई के संयत्र आदि है तो बाकी का खर्चा बचाया जा सकता है और आपका पौंड सरकार से मिली सब्सिडी में ही बनकर तैयार हो जाएगा।

दस फायदे
पौंड में एकत्र वर्षा जल आपको फ्री में मिल ही गया। पौंड का पानी आपके खेत की सिंचाई में तो काम आएगा ही उसके साथ आप इसमें मछली व बतखपालन कर सकते हैं। इस पौंड पर जालीदार घर बनाकर मुर्गी पालन भी किया जा सकता है और इस घर के ऊपर छाया के लिए आप सोलर प्लांट लगा सकते हैं। इस पौंड के पास अगर आप दो छोटे पौंड और बना लें तो एक में कमल की खेती और एक में सिंघाड़े की खेती की जा सकती है और इन्हीं छोटे पौंडों में सिप डाल मोती की खेती की जा सकती है। बतख, मुर्गे की बिंठ मछली के भोजन के रूप में काम आती है उसके साथ मछली आदि से प्राप्त बेस्ट ऐसी खाद बन जाती है जो खेती में सबसे उपयुक्त है।

इनसे जानें नवाचार
जयपुर से अजमेर राष्ट्रीय मार्ग पर बिचून के पास भैराणा गांव में राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कृत किसान सुरेन्द्र अवाना अपने शिवम डेयरी व कृषि अनुसंधान केन्द्र पर कुछ ऐसे ही नवाचार कर रहे हैं। वर्तमान में वे फार्म पौंड से पांच तरह के फायदे ले रहे हैं और आने वाले छह महीनों में वे सभी दस तरह के लाभ लेने लग जाएंगे। आप भी एक ही पौंड से दस तरह के फायदे ले दस गुणा लाभ कमा सकते हैं।

हो सकती है 10 से 15 लाख सालाना आय
श्वेत व हरित क्रांति के साथ राजस्थान में नीली क्रांति (मछली पालन) लाने में जुटे अवाना के अनुसार पौंड पर ये नवाचार कर आप भी 10 से 15 लाख रुपए सालाना आसानी से कमा सकते हैं। दस तरह के नवाचार से तो आमदनी को 50 लाख रुपए सालाना किया जा सकता हैं।