September 23, 2020

केदारनाथ पुरोहितों ने दी भू समाधि की चेतावनी

जारी है विरोध-प्रदर्शन

रुद्रप्रयाग, 28 अगस्त (एजेंसी)। बीते 28 जून से केदारनाथ धाम में मास्टर प्लान और देवस्थानम बोर्ड के विरोध में क्रमिक धरने पर बैठे तीर्थपुरोहितों ने भू-समाधि लेने की चेतावनी दी है। तीर्थ पुरोहितों का कहना है कि सरकार-प्रशासन उनके आन्दोलन का कोई संज्ञान नही ले रहा है इसलिए भू-समाधि लेने का निर्णय लिया गया है । बारिश के बीच पड़ ही कड़ाके की सर्दी में अर्धनग्न धरना दे रहे पुरोहित संतोष द्विवेदी ने ऐलान किया कि वह जल्द ही भ-समाधि लेने की तारीख की घोषणा कर देंगे । केदारनाथ धाम में तीर्थपुरोहितों के क्रमिक अनशन को लगभग दो महीने हो गए हैं। पुरोहितों का कहना है कि प्रशासन उनकी बात ही नहीं सुन रहा है। ऐसे में उनके पास कोई और विकल्प नहीं बचा है। चार धाम देवस्थानम् बोर्ड बनाए जाने को चुनौती देने वाली सुब्रमण्यम स्वामी की याचिका हाईकोर्ट में खारिज हो चुकी है। हालांकि पुरोहितों का धरना केस का फैसला होने से पहले से जारी है। तीर्थ-पुरोहित चार धाम देवस्थानम् बोर्ड पर उनके हक की अनदेखी का आरोप लगा रहे हैं। हालत यह है कि केदारनाथ के मुख्य पुजारी शंकर लिंग का शिविर क्षतिग्रस्त हो गया है और उसमें बारिश का पानी टपक रहा है।