Sun. Feb 23rd, 2020

कोटा में बच्चों की मौत का मामला

विधानसभा में कांग्रेस-भाजपा के विधायक आपस में भिड़े

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 13 फरवरी। राजस्थान विधानसभा में बुधवार को कोटा के जेकेलोन अस्पताल में बच्चों की मौत के मामले में कांग्रेस-भाजपा विधायकों में तीखी नोंक-झोंक हो गई। आधे घंटे तक सदन में हंगामा होता रहा। वहीं इस हंगामे को देखकर विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी भी परेशान हो उठे और उन्होंने कहा कि इस कुर्सी पर बैठकर में खुद ही प्रताडि़त हो रहा हूं। कृपया करके सत्ता पक्ष और विपक्ष सदन की गरिमा बनाए रखें। वहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस मामले में हस्तक्षेप किया और पूरी घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। जब जाकर यह मामला शांत हुआ।
सदन में भाजपा विधायक मदन दिलावर ने प्रश्नकाल ने पूछा कि केंद्रीय एजेंसियों ने कोटा में बच्चों की मौत को लेकर राज्य सरकार ने क्या रिपोर्ट दी। इस बात पर चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा भड़क गए और भाजपा पर मामले में राजनीति करने का आरोप लगा दिया। वहीं जब विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने दिलावर को पूरक प्रश्न पूछने से रोका तो भाजपा विधायक विरोध करते हुए वेल में आ गए। लेकिन कांग्रेस इस सवाल के लिए पहले से ही तैयार हो कर आई थी। सभी कांग्रेसी विधायकों के हाथों में अखबार में छपि खबर की फोटो कॉपी थी जिसे वे सदन में लहरार रहे थे। इसमें उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ के पिछली सरकार में चिकित्सा मंत्री रहते हुए हुई मौतों को लेकर छपि खबरें थीं। इस बीच कांग्रेस विधायक सुरेश मोदी भाजपा खेमे में जा पहुंचे जबरदस्ती राठौड़ को उस खबर की कटिंग थमा गए। सदन में कांग्रेस विधायक की इस हरकत पर भाजपा भड़क गई और चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ जबरदस्त नारेबाजी शुरू कर दी।