September 21, 2020

कोरोना कुछ नहीं, दो बड़े संकट और आने वाले हैं…

नॉम चोम्स्की ने दी चेतावनी

वाशिंगटन, 16 सितम्बर (एजेंंसी)। अमेरिकी भाषाविद और राजनीतिक विश्लेषक नॉम चोम्स्की ने दावा किया है कि कोरोना संक्रमण एक महामारी जरूर है लेकिन ये उन दो संकटों से काफी छोटा है, जो आने वाले हैं। डीआईईएम-25 टीवी से बातचीत में चोम्स्की ने कहा कि कोरोनो वायरस काफी गंभीर है लेकिन परमाणु युद्ध और ग्लोबल वार्र्मिंग वो दो संकट हैं जो मानव सभ्यता के विनाश का कारण बन सकते हैं। उन्होंने कहा कि जिस तरह के राजनीतिक और आर्थिक हालत हैं ये दोनों संकट अब दूर नजऱ नहीं आ रहे हैं। 91 वर्षीय नॉम चोम्स्की ने कहा कि यह सबसे चौंकाने वाली बात है कि कोरोना वायरस ट्रंप की सरकार के दौरान आया है और इसलिए अब ये और भी बड़ा खतरा नजर आ रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस भयानक है और इसके भयंकर परिणाम हो सकते हैं, लेकिन हम इससे उबर जाएंगे। लेकिन अन्य दो खतरों से उबर पाना नामुमकिन होगा। इनसे सब कुछ तहस-नहस हो जाएगा। अमेरिका के पास बढ़ती जा रही असीम ताकत आने वाले विनाश की वजह बनेगी। चोम्स्की ने कहा कि सबसे बड़ी विडंबना देखिए कि क्यूबा, यूरोप की मदद कर रहा है लेकिन उधर जर्मनी ग्रीस की मदद करने के लिए तैयार नहीं है।