September 22, 2020

कोहली, धोनी और रोहित से सीखी कप्तानी की खूबियां: राहुल

नई दिल्ली, (एजेंसी)। लोकेश राहुल को किंग्स इलेवन पंजाब की कप्तानी की जिम्मेदारी सौंपी गई है, जिसके लिए वह उस जानकारी का इस्तेमाल करना चाहेंगे, जो उन्होंने बीते वर्षों में महेंद्र सिंह धोनी, विराट कोहली और रोहित शर्मा की नेतृत्व क्षमता को देखकर हासिल की है। शीर्ष क्रम में बल्ले से दो शानदार सत्र के बाद उन्हें यह मौका दिया गया है। राहुल से जब उनकी कप्तानी में कोहली या धोनी की झलक की संभावना के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, निश्चितरूप से ये सभी कम से कम पिछले 10 वर्षों से सबसे ज्यादा प्रेरणादाई क्रिकेटर और कप्तान रहे हैं। उनकी अगुआई में खेलने का मौका मिलना सीखने के लिए शानदार चीज है। उन्होंने कहा, दोनों (कोहली और धोनी) बिलकुल विपरीत हैं और टीम की अगुआई अलग तरीके से करते हैं, लेकिन टीम के लिए उनका जुनून एक समान है। वे हमेशा जीतना और टीम को एक साथ आगे बढ़ाना चाहते हैं। राहुल ने कहा, मैं भी अपनी टीम के साथ इसी का इस्तेमाल करना चाहता हूं। यह टीम की तरह महसूस होना चाहिए, यह परिवार की तरह महसूस होना चाहिए।

सीखने पर निगाहें
राहुल ने कहा कि उन्होंने सिर्फ भारतीय कप्तानों से ही नहीं बल्कि प्रतिद्वंद्वी टीम के कप्तानों से भी नेतृत्व क्षमता के गुर सीखे हैं। उन्होंने कहा कि हम हमेशा मैदान पर मैच देखते थे, मैं सीखने पर हमेशा निगाहें लगाए रखता था और रोहित (मुंबई इंडियंस के कप्तान) जैसे खिलाडिय़ों को देखकर काफी कुछ सीखते हो।

सब कुछ मेरे दिमाग में
राहुल ने कहा, खिलाड़ी जैसे केन विलियमसन। उम्मीद करता हूं कि यह सब कुछ मेरे दिमाग में हो ताकि मैं टूर्नामेंट के दौरान इसका इस्तेमाल कर सकूं। इस बार आईपीएल में यह युवा बल्लेबाज विकेटकीपिंग और ओपनिंग स्लॉट पर बैटिंग के अलावा विरोधी टीमों के खिलाफ एक कप्तान के तौर पर रणनीति बनाने में व्यस्त दिखाई देंगे। आईपीएल जैसे उच्च दबाव वाले इस टूर्नामेंट में यह बहुत ज्यादा काम होगा। लेकिन राहुल इन चुनौतियों को लेकर उत्साहित हैं।