September 25, 2020

गणपति विसर्जन का शुभ मुहूर्त

आज आपके लिए गणपति विसर्जन के तीन मुहूर्त हैं। आप अपनी सुविधा और समय अनुसार गणपति का विसर्जन करें।

  • सुबह का मुहूर्त: मंगलवार सुबह 9 बजकर 10 मिनट से दोपहर 1 बजकर 56 मिनट तक।
  • दोपहर का मुहूर्त: मंगलवार दोपहर 3 बजकर 32 मिनट से शाम को 5 बजकर 07 मिनट तक।
  • शाम को मुहूर्त: शाम को 8 बजकर 07 मिनट से रात 9 बजकर 32 मिनट तक।

गणेश विसर्जन पूजा विधि
अनंत चतुर्दशी के दिन सुबह स्नान आदि के बाद गणपति की नियमित पूजा करें और उनको मोदक का भोग लगाएं। अब गणेश विसर्जन के लिए निर्धारित समय के अनुसार मूर्ति विसर्जन की पूजा करें। एक चौड़े पाट को गंगाजल से साफ कर उस पर स्वास्तिक बनाएं और उस पर लाल या पीले वस्त्र बिछा दें। फिर उसे पुष्प आदि से सजा दें। उसके चार कोनों पर चार सुपारी रख दें। फिर गणेश जी की मूर्ति को पूजा स्थान से उठाकर उस पाट पर रख दें। अब पुष्प, अक्षत्, फल, वस्त्र और मोदक गणपति को चढ़ाएं। इसके बाद पंच मेवा, चावल, गेहूं आदि की एक पोटली बनाएं और एक डंडे में बांध दें। फिर गणपति बप्पा का जयकारा लगाकर उनको वाहन पर विराजमान कराएं। शांतिपूर्वक नदी, तालाब के किनारे जाएं और गणेश प्रतिमा को वाहन से उतार कर नदी या तालाब के किनारे रख दें।