Fri. Nov 15th, 2019

गहलोत सरकार की पहली वर्षगांठ अगले माह

उद्योग जगत के लिए बड़ी घोषणाएं होंगी

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 8 नवम्बर। अगले माह 17 दिसंबर को सीएम अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार का एक साल पूरा होने जा रहा है। गहलोत सरकार की पहली वर्षगांठ पर इस बार उद्योग-व्यापार जगत के लिए कई बड़ी घोषणाएं होंगी। इसके लिए तैयारियां जोरों पर हैं। इन घोषणाओं से उद्योग जगत को बड़ी राहत मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।

नई निवेश प्रोत्साहन नीति जारी की जाएगी
गहलोत सरकार की पहली वर्षगांठ पर प्रदेश के उद्योग जगत को फीलगुड करवाने की तैयारी की जा रही है। उद्योग जगत को मंदी से उबारने और इंवेस्टर फ्रेंडली माहौल बनाने के लिए सरकार कई बड़ी घोषणाएं करेगी। 17 दिसंबर को प्रदेश की नई निवेश प्रोत्साहन नीति जारी की जाएगी। इसी दिन नई उद्योग नीति लॉन्च की जाएगी। इसके साथ ही उद्योगों के लिए नए सिरे से सिंगल विंडो सिस्टम की भी शुरुआत की जाएगी। बीजेपी राज में रिसर्जेंट राजस्थान समिट में 3.32 लाख करोड़ के एमओयू जरूर हुए थे लेकिन धरातल पर निवेश महज 12 हजार करोड़ का ही आया। उद्योग मंत्री परसादीलाल मीणा ने कहा है अधिकांश एमओयू करने वाले लौटकर ही नहीं आए।हमने चलाकर किसी कंपनी का एमओयू रद्द नहीं किया है। एमओयू करके जिन्होंने निवेश नहीं किया उनके एमओयू अपने आप ही रद्द समझिए। सरकार की पहली वर्षगांठ पर उद्योग जगत के लिए कई राहत वाली घोषणाओं की तैयारियों के लिए विभाग में युद्धस्तर पर कार्य जारी है।

सीएम ने समीक्षा बैठक में दिए थे निर्देश
उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि पिछले दिनों उद्योग विभाग की समीक्षा बैठक में उद्यमियों और कारोबारियों की सुविधा के लिए सिंगल विंडो सिस्टम को मजबूत करने के लिए निर्देश दिए थे। गहलोत ने कहा कि सरकार सिंगल विंडो सिस्टम को और अधिक मजबूत व पारदर्शी बनाएगी। सिंगल विंडो सिस्टम में सुधार से उद्यमियों को अपना उद्योग स्थापित करने में आने वाली कठिनाइयों से निजात मिलेगी और एक ही स्थान पर आवेदन कर वे अपना उद्यम शुरू कर सकेंगे।