November 25, 2020

गायकवाड़ की लगातार 3 मैचों में फिफ्टी

दुबई, एजेंसी। आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए यह सीजन कुछ खास नहीं रहा। महेंद्र सिंह धोनी की टीम प्ले-ऑफ से बाहर होनी वाली पहली टीम बनी। लेकिन आईपीएल के लिए एक चीज जो सबसे खास रही, वह है ऋतुराज गायकवाड़। कोरोना से जूझने के बाद टीम में आए। शुरुआती कुछ मैचों में अच्छा नहीं खेल पाए। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी। बैक-टू-बैक 3 फिफ्टी लगाई और मैन ऑफ द मैच के खिताब से भी नवाजे गए। वे ऐसा करने वाले सीएसके के पहले प्लेयर हैं। धोनी ने ऋतुराज को भविष्य का बेहतरीन बैट्समैन भी बताया है। धोनी ने कहा कि ऋतुराज के लिए इस सीजन से पहले हमने उन्हें कुछ खास बैटिंग करते नहीं देखा था। लेकिन जब भी हमने देखा, वे उन खिलाडिय़ों में से हैं, जिन्होंने अच्छी बैटिंग की। धोनी ने कहा, ऋतुराज के लिए यह सीजन काफी टफ रहा है। सीजन के शुरुआत में उन्हें कोरोना से जूझना पड़ा। बाकी खिलाडिय़ों की तुलना में उन्हें रिकवर होने में सबसे ज्यादा वक्त लगा। इस वजह से वह प्रैक्टिस भी नहीं कर सके और न ही हम उन्हें प्रैक्टिस सेशन में बैटिंग करते देख सके। अगर वह अपने पहले मैच में 15-20 रन भी बना देते, तो उन्हें मौका मिल सकता। इसलिए हमने डु प्लेसिस और वॉटसन से ओपनिंग कराई। वहीं, फाफ डु प्लेसिस ने ऋतुराज की विराट कोहली से तुलना की। फाफ डु प्लेसिस ने कहा कि ऋतुराज में यंग कोहली की झलक दिखती है। उन्होंने कहा, ऋतुराज का कम्पोजर मुझे सबसे ज्यादा पसंद है। वह जब बैटिंग करता है, तो प्रेशर में बिल्कुल नहीं दिखता। 23 साल के ऋतुराज ने सीजन में 6 मैचों की 6 पारियों में 51 की औसत से 204 रन बनाए। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 120.71 का रहा। उन्होंने 3 फिफ्टी भी लगाई। जबकि दो मौके पर वह नॉट आउट रहे और टीम को जीत दिला कर ही वापस लौटे। तीनों मैचों में उन्हें मैन ऑफ द मैच के अवॉर्ड से भी नवाजा गया। ऋतुराज ने अब तक21 फस्र्ट क्लास मैच खेले हैं। महाराष्ट्र की ओर से खेलते हुए उन्होंने 36 पारियों में 38.54 की औसत से 1349 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 4 सेंचुरी और 6 फिफ्टी भी लगाई है। उन्होंने 54 लिस्ट-ए मैच भी खेले हैं। जिसकी 53 पारियों में उन्होंने 49.00 की औसत से 2499 रन बनाए। 187 रन उनका सर्वाधिक स्कोर रहा। लिस्ट ए में उन्होंने 6 सेंचुरी और 16 फिफ्टी लगाई है।