September 23, 2020

घनश्याम तिवाड़ी और मानवेन्द्र की भाजपा में वापसी की सुगबुगाहट तेज!

पार्टी तैयार कर रही है रोडमैप

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 25 अगस्त। कहते हैं कि राजनीति में कुछ भी स्थायी नहीं होता है। सब परिस्थितियों पर निर्भर करता है। ऐसा ही कुछ अब राजस्थान बीजेपी में होने की सुगबुगाहट है। पिछले दिनों कांग्रेस में करीब 32 दिन तक चले पॉलिटिकल ड्रामे के बाद जिस तरह सरकार और संगठन से बगावत करने वाले पूर्व पीसीसी चीफ सचिन पायलट और उनके गुट की वापसी हुई है, वैसा ही बीजेपी में भी होने जा रहा है। सूत्रों की मानें तो बीजेपी से छिटके दिग्गजों की पार्टी में वापसी का रोडमैप तैयार किया जा रहा है। इसमें दो नाम बड़े अहम हैं। पहला घनश्याम तिवारी और दूसरा मानवेन्द्र सिंह जसोल। राजस्थान की राजनीति में अस्थिरता को देखते हुए बीजेपी अपने विचार तथा परिवार से कभी जुड़े रहे कद्दावर नेताओं की सुध लेने में जुटी गई है। वो नेता जो कि कभी संघ और बीजेपी की अग्रिम पंक्ति में थे, लेकिन अपनी ही पार्टी में दूसरे बड़े नेताओं से मनमुटाव के चलते या तो पार्टी छोड़कर चले गये या फिर दूसरी पार्टी का दामन थाम लिया। बीजेपी का एक धड़ा चाहता है कि ऐसे दिग्गजों की घर वापसी होनी चाहिए। बीजेपी के सूत्र बताते हैं कि घनश्याम तिवारी और मानवेन्द्र सिंह समेत ऐसे कई नेता हैं जो कि अभी पार्टी से दूर हैं, उनकी वापसी की सुगबुगाहट अब तेज होने लगी है।

माहौल भांपकर तैयारी
प्रदेश बीजेपी के अंदरूनी सियासत में वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव और 2019 के लोकसभा चुनावों के बाद जो बदलाव हुआ उसके बाद पार्टी में भी दो धड़े खुलकर सामने आ गए। सूत्रों की मानें तो वर्तमान मे बीजेपी के सक्रिय धड़े के साथ संघ तथा इससे जुड़े पार्टी पदाधिकारी चाहते हैं कि दोनों नेताओं समेत अन्य नेता जो कभी पार्टी में होते थे, उनकी वापसी होनी चाहिए। इसमें बीजेपी के सक्रिय प्रदेश से लेकर केन्द्रीय नेताओं की भूमिका अहम बताई जा रही है। तर्क दिया जा रहा है कि कांग्रेस की घरेलू कलह के कारण विधानसभा चुनाव की नौबत आ जाए उससे पहले बीजेपी को मजबूत कर लेना चाहिए।