October 23, 2020

घर को बनाया डाक टिकटों का म्यूजियम!

रिटायर्ड बैंक कर्मचारी 50 साल से कर रहे कलेक्शन

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 13 अक्टूबर। युवा पीढ़ी के मन में पुराने वक्त को लेकर कई सवाल होते हैं। कुछ का उत्तर मिलता है तो कुछ अनसुलझे रह जाते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए बीकानेर के पूर्व बैंक कर्मचारी भारत भूषण ने डाक टिकटों का कलेक्शन शुरू किया। इन टिकटों को देखकर डाक विभाग का अब तक के सफर को आसानी से समझा जा सकता है। भारत भूषण ने अपने घर को ही डाक टिकट के म्यूजियम में तब्दील कर दिया है। उनके पास महारानी एलिजाबेथ विक्टोरिया से लेकर वर्तमान में कोरोना पर डाक टिकटों का संग्रह है। दरअसल ये सब करने के पीछे भारत भूषण का उद्देश्य ये है कि युवा पीढ़ी पुराने वक्त को इन टिकटों के माध्यम से समझ पाए। भारत भूषण पिछले 50 वर्ष से डाक टिकट का संग्रह करते आ रहे हैं। आज उनके पास देश से लेकर विदेश तक के डाक टिकटों का कलेक्शन है। भारत भूषण के मुताबित उन्हें डाक टिकट संग्रह करने का आइडिया तब आया, जब वह बैक में काम करते थे। उस दौरान उनके पास अलग-अलग प्रकार के डाक टिकट आते थे। उन डाक टिकटों को देखकर उन्होंने टिकट कलेक्शन करने का फैसला लिया। बैंक से रिटायर्ड होने के बाद भी भारत भूषण ने अपनी इस मुहिम को जारी रखा। उन्होंने अपने घर को डाक टिकटों का म्यूजियम बना दिया है।