Sat. Jan 25th, 2020

घायल परिंदों को बचाने के लिए शहरभर में 18 चिकित्सा केन्द्र

जयपुर, 13 जनवरी। पशु कल्याण के क्षेत्र में कार्यरत वल्र्ड संगठन की ओर से मकर संक्रान्ति पर 14 जनवरी को पतंगों की डोर से घायल परिन्दों को बचाने के लिए 18 स्थानों पर चिकित्सा सेवा उपलब्ध करवाई जाएगी। वल्र्ड संगठन, पशुपालन विभाग तथा जयपुर जिला पशु क्रूरता निवारण समिति की ओर से इस अभियान के तहत घायल पक्षियों का इलाज करवाया जाएगा। स्टेट एनिमल वेल्फेयर ऑफिसर मनीष सक्सेना ने बताया कि संक्रांति पर उड़ाई जाने वाली पतंगों की डोर में फंसने से हजारों पक्षी घायल हो जाते हैं तथा चिकित्सकीय सुविधा के आभाव में दम तोड़ देते हैं। ऐसे में शहर को 16 क्षेत्रो मे बांटकर ‘क्षेत्रीय बर्ड रेस्क्यू सेन्टर’ बनाए गए है, जिसमे 18 पशुचिकित्सक अपनी सेवाएं देंगे। पशु चिकित्सालय एम.आई.रोड, पशु चिकित्सालय, हीरापुरा 9414048178, गांधी नगर डॉ. अनिल कुमार 9414849055, दुर्गापुरा डॉ. अवद्येश कुमार जैन 9414238209, नाहरी का नाका डॉ. सुरेन्द्र सिंह शेखावत 9829005334, सिरसी डॉ. निरूपा सिरवी 9414324891, हरमाडा डॉ. अन्जु प्रधान 7976194427, पुरानी बस्ती डॉ. पुष्पेन्द्र कालोरिया 9414726733, आदर्श नगर डॉ. प्रवीण कुमार सोनी 9829412052, आमेर डॉ. नीरज शुक्ला 9414028244, जगतपुरा डॉ. राम कुमार मीणा 9928577376, मानसरोवर डॉ. अमित कुमार गोयल 9024754721, जयपुर उत्तर डॉ. मोहसिन अख्तर 9024332326, झोटवाड़ा डॉ. राम कृष्ण बोहरा 9414454282, सांगानेर डॉ. प्रवीण कुमार सैन 9414459199, जयपुरा डॉ. राकेश कुमार चौधरी 9414276460, जिला चलपशु चिकित्सा ईकाई डॉ. प्रदीप सोठवाल 9772628280 और जिला चलपशु चिकित्सा ईकाई डॉ. सुरज करण गुर्जर 8107597177।