September 23, 2020

चारदीवारी में पार्कों का होगा विकास

  • एसएमएस और गणगौरी अस्पताल में होगा सुविधाओं का विस्तार
  • जयपुर स्मार्ट सिटी की बोर्ड बैठक

जयपुर, 11 सितंबर। जयपुर स्मार्ट सिटी लि. के तहत जयपुर में करवाए जा रहे विभिन्न कार्यो की समीक्षा और नये प्रोजेक्ट पर चर्चा के लिए कल स्मार्ट सिटी लि. बोर्ड की बैठक बुलाई गई। स्वायत्त शासन सचिव भवानी सिंह देथा की अध्यक्षता में कल हुई इस बैठक में जयपुर के चारदीवारी क्षेत्र स्थित व उससे लगते पार्को को थीम बेस पर विकसित करने का निर्णय किया। इस योजना के तहत इसके तहत रामनिवास बाग, पौण्डरिक उद्यान, जयनिवास उद्यान और सुरेश शर्मा उद्यान में सौंदर्यकरण और विकास कार्य होंगे। बैठक मेें निदेशक आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय भारत सरकार ऋ तु सेन, कलेक्टर जयपुर अंतर सिंह नेहरा, आयुक्त जेडीए गौरव गोयल, निदेशक स्वायत्त शासन विभाग दीपक नंदी और जयपुर स्मार्ट सिटी के अन्य निदेशक एवं अधिकारी उपस्थित थे।
बैठक में परकोटा के सामुदायिक केन्द्रों का जीर्णोद्धार करने का भी निर्णय किया। इसके साथ ही एसएमएस अस्पताल, गणगौरी अस्पताल के चिकित्सा सुविधाओं का विस्तार और विकास कार्य करवाए जाने के प्रस्तावों को मंजूरी दी गई। बैठक में वहीं कुछ नए कार्यो को स्वीकृति दी गई। इनमें लक्ष्मीनारायणपुरी में स्थित आयुर्वेदिक अस्पताल में चिकित्सा सुविधा विस्तार और विकास कार्यों को स्वीकृति दी गई। जेएलएन मार्ग स्थित राजकीय नर्सिंग कॉलेज में नर्सिंग विद्यार्थियों के प्रशिक्षण के लिए एक अतिरिक्त तल के निर्माण को भी स्वीकृति दी गई। आईटी तकनीक का उपयोग कर सीवर मैनहॉल, लाइट, पार्किंग और अग्निशमन व्यवस्थाओं के स्मार्ट कर संचालन व संधारण के लिए योजना को सैद्धान्तिक स्वीकृति दी गई।
बैठक में सवाई मानसिंह स्टेडियम में अधूरे बेडमिंटन कोर्ट का निर्माण कार्य पूर्ण कराने के भी निर्देश दिए। इसी तरह जयपुर शहर की यातायात सुविधा के सुधार के लिए बनाए अभय कमाण्ड सेन्टर को बॉक्स कैमरा, पीटीजेड कैमरा, ओएफसी केबल आदि के माध्यम से अपग्रेड किए जाने की भी स्वीकृति प्रदान की। चार दीवारी के अंदर सीवर सुविधा को सुदृढ़ बनाने के लिए 2 सुपर सकर मशीन, 20 थ्री इन वन सीवर क्लीनिंग, जेटिंग, ग्रेबींग व रोडिंग मशीन एवं 10 थ्री व्हीलर ऑटो टिपर माउटेंड ग्रेबींग सीवर क्लीनिंग मीशन क्रय करने के साथ ही शहरी यातायात के लिए जेसीटीसीएल के माध्यम से 130 नई बसें खरीदने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई।