Fri. Mar 22nd, 2019

चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाडिय़ों का नहीं होगा यो-यो टेस्ट

नई दिल्ली, (एजेंसी)। महेंद्र सिह धोनी के नेतृत्व वाली चेन्नई सुपर किंग्स की टीम आईपीएल के संस्करण में फिटनेस टेस्ट नहीं देगी। पूर्व भारतीय ट्रेनर रामजी श्रीनिवासन, जो इस सीजन के पहले मैच तक के लिए चेन्नई टीम से जुड़े हैं, ने खिलाडिय़ों की फिटनेस को मापने के लिए दो किमी या 2.4 किमी दौड़ और स्प्रिंट रिपीट टेस्ट को खिलाडिय़ों की फिटनेस मापने के पैमाने के रूप में चुना है। रामजी ने में बताया कि कैसे उन्होंने यो-यो टेस्ट जैसे सामान्य टेस्ट पैरामीटर के बजाय खिलाडिय़ों की व्यक्तिगत जरूरतों को ध्यान में रखते हुए स्मार्ट टेस्ट और डिजाइन टेस्ट को प्राथमिकता दी है। उन्होंने कहा कि मैंने खिलाडिय़ों की फिटनेस जांच के लिए दो किमी या 2.4 किमी दौड़ को चुना है। केवल इसलिए कि राष्ट्रीय टीम यो-यो टेस्ट करती है तो इसका मतलब यह नहीं है कि मुझे भी इस प्रक्रिया का पालन करने की जरूरत है। उन्होने कहा कि मेरा मानना है कि खिलाडिय़ों की खास जरूरतों को ध्यान में रखते हुए उनके लिए चुनौतियों को तैयार करने की जरूरत है। उदाहरण के रूप में देखें तो जब मैं भारतीय टीम के साथ था, तब मैंने धोनी के लिए जो टेस्ट तैयार किया था, वह सचिन तेंदुलकर के लिए नहीं था।