October 20, 2020

जगतपुरा, प्रताप नगर क्षेत्र में बनी मल्टीस्टोरी में पहुंचेगा सरकारी पेयजल

  • बीसलपुर का पानी पिलाने के लिए जनता से वसूलेंगे 409 करोड़

जयपुर, 8 अक्टूबर। राजधानी जयपुर में लम्बे समय से चली आ रही मांग आखिर पूरी तो हुई, लेकिन वह भी कुछ ही क्षेत्र के लिए। शहर में बनी बहुमंजिला इमारतों में पीएचईडी से पेयजल सप्लाई शुरू करवाने, कनेक्शन देने के लिए लम्बे समय से मांग की जा रही थी। इसके चलते विभाग ने अब राजधानी के जगतपुरा, प्रतापनगर और महल रोड क्षेत्र के लिए यह योजना शुरू की है। हालांकि इन बहुमंजिला इमारतों में पेयजल कनेक्शन लेने के लिए आमजन को भारी रकम भी चुकानी पड़ेगी। विभाग की ओर से पेयजल कनेक्शन के लिए दरें तय कर दी है। जलदाय विभाग के सूत्रों की माने तो इन क्षेत्रों के लोगों को बीसलपुर का पानी पिलाने के लिए प्रोजेक्ट की लागत विकास शुल्क के रूप में उन्हीं से वसूल की जाएगी। इसके लिए तीनों क्षेत्रों की जनता को 409.91 करोड़ रुपए विकास शुल्क के रूप में चुकाने होंगे। विभाग के अफसरों के अनुसार वित्त विभाग के परिपत्र के अनुसार विकास शुल्क 140 रुपए प्रति वर्ग मीटर तय किया गया था, लेकिन पांच स्लेब में दरें तय करते हुए निम्न व अल्प आय वर्ग को थोड़ी राहत दी है। नई दरों के अनुसार 100 वर्गमीटर के भूखंड के लिए 75 रुपए प्रति वर्गमीटर और 101 से 200 वर्गमीटर के भूखंड के लिए 100 रुपए प्रति वर्गमीटर विकास शुल्क तय किया है। इसी तरह से बहुमंजिला इमारतों के लिए 25 रुपए वर्ग फुट विकास शुल्क तय किया गया है।

15 मंजिल तक हर फ्लैट का अलग से कनेक्शन : जलदाय विभाग के अधिकारियों के अनुसार अगर कोई व्यक्ति अपने भूखंड पर एक मंजिल से ज्यादा निर्माण करता है तो उसे प्रति मंजिल अतिरिक्त शुल्क देना होगा। वहीं 15 मंजिल तक भूखंड पर फ्लैट बनाता है तो उसे प्रति फ्लैट अलग से कनेक्शन लेना होगा।

जलदाय मंत्री कल करेंगे 1परियोजना का लोकार्पण : बीसलपुर पेयजल प्रोजेक्ट से जयपुर शहर में नगर निगम के वार्ड 47 एवं 48 के तहत जगतपुरा, प्रतापनगर एवं महल रोड के आसपास के क्षेत्र को जोडऩे की परियोजना के फेज-प्रथम के जोन-प्रथम का लोकार्पण 9 अक्टूबर होगा। जलदाय मंत्री डॉ. बी.डी. कल्ला 194.57 करोड़ रुपए की लागत वाली इस परियोजना का आशीष विहार पम्प हाऊस से सुबह 11 बजे लोकार्पण करेंगे। वे इस अवसर पर ऑनलाईन पेयजल कनैक्शन के ‘एप’ की भी लांच किया जाएगा। इस परियोजना से इस क्षेत्र में करीब चार दर्जन कॉलोनीज में 40 हजार की आबादी को बीसलपुर पेयजल योजना से स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति की जाएगी। फेज-प्रथम का कार्य पूर्ण होने के बाद बीसलपुर का शुद्ध पेयजल करीब सवा दो लाख की आबादी को सुलभ हो जाएगा।

इन कॉलोनीज और क्षेत्रों को मिलेगा फायदा : इस परियोजना से जगतपुरा, प्रताप नगर एवं महलरोड के जोन-प्रथम में रोहिणी नगर, आनन्द विहार, ब्लॉक-ए, बी,सी व डीए (रेलवे कॉलोनी) केदार नगर, तपोवन विहार, ब्लॉक-ए, पवन विहार, महादेव नगर गली नम्बर 1 से 4, शिव ऑफिसर्स कॉलोनी, ब्लॉक-ए, बी, सी व डी, जनरल एवं विस्तार, शकुन्तलम-केदार नगर, सुनील नगर, चाणक्यपुरी-प्रथम, चाणक्यपुरी विस्तार, विज्ञान नगर-प्रथम, विज्ञान नगर-द्वितीय, विज्ञान नगर-ब, कुसुम विहार, ब्लॉक-ए, बी, सी, डी व ई, जनरल एवं विस्तार, चन्द्रगुप्त नगर, महालक्ष्मी नगर, इनकम टैक्स कॉलोनी, आशीष विहार, रिद्धी सिद्धी नगर, हरिनगर, अरविन्द नगर (सीबीआई कॉलोनी), तिरूपति नगर ब्लॉक-ए, बी, सी व डी, शिक्षा विहार ब्लॉक-ए व बी, स्वामी केशवानन्द नगर, श्रीराम विहार, लक्ष्मी नगर, स्वरूप विहार, स्वरूप विहार विस्तार, ग्राम जयपुरा, तारा नगर, केसर विहार, सुमन एन्क्लेव, अरावली हिल्स, बृज वाटिका, बाल विहार, बृज विहार विस्तार, प्रभु प्रधान सिटी, संतोष विहार, विश्वविद्यालय नगर, भैरू करोल का बाग, जैन कॉलोनी, बाड़ करोल तथा तपोवन विहार-जनरल ब्लॉक आदि कॉलोनियों के निवासी लाभांवित होंगे।