November 25, 2020

जब तक दवा नहीं, तब तक मास्क ही वैक्सीन : शर्मा

चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कोरोना जागरुकता वाहन रैली को दिखाई हरी झंडी

जयपुर, 3 नवंबर। कोरोना जागरुकता जन आंदोलन को लेकर सोमवार को कोरोना वॉरियर्स द्वारा वाहन रैली निकाली गई। वाहन रैली को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि दुनिया में जब तक कोरोना की दवा या वैक्सीन नहीं खोजी जाए तब तक केवल और केवल ‘मास्क ही वैक्सीन’ है। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों का मानना है कि वैक्सीन केवल 60 प्रतिशत और मास्क 90 प्रतिशत तक कोरोना संक्रमण की आशंका को रोक सकता है। उन्होंने कहा कि आज के दौर में केवल जनजागरुकता और सावधानी से ही कोरोना को हराया जा सकता है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में 2 मार्च को पहला कोरोना केस सामने आते ही राज्य सरकार ने विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम गठित कर दी थी, उसके बाद से अब तक विशेषज्ञों की राय के अनुसार ही राज्य सरकार कोरोना के खिलाफ युद्ध में निर्णय ले रही है। चिकित्सा मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की सतर्कता के चलते प्रदेश में मृत्युदर की दर में निरंतर कमी आ रही है।

उन्होंने कहा कि कोरोना पॉजिटिव के नेगेटिव होने के बाद भी कई तरह की घातक बीमारियों की आशंका बनी रहती है, ऐसे में बचाव ही उपचार है। उन्होंने कहा कि कोरोना वॉरियर्स के रूप में चिकित्सकों, पैरामैडिकल स्टाफ, सफाईकर्मी, मीडियाकर्मी, प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों की भूमिका सराहनीय रही है। वाहन रैली के रूप में आज का कोरोना वॉरियर्स का यह प्रयास जन जागरुकता आंदोलन को और अधिक सुदृढ़ करेगा। चिकित्सा राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने इस मौके पर कहा कि कोरोना वॉरियर्स की मेहनत का ही परिणाम है कि देश भर में राजस्थान द्वारा अपनाई सतर्कता और सजगता को सराहा गया है। उन्होंने कहा कि भले ही कोरोना की गति प्रदेश में धीमी पड़ गई हो लेकिन खतरा अभी भी बरकरार है। उन्होंने आमजन से मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने और बार-बार हाथ धोने की अपील को दोहराया।

जन आंदोलन में आमजन की भूमिका अनिवार्य
जन स्वास्थ्य निदेशक डॉ. के के शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार के अथक प्रयासों के चलते प्रदेश में कोरोना नियंत्रित होता नजर आ रहा है। उन्होंने कहा कि आमजन को जनांदोलन का हिस्सा बनकर समाज में जागरुकता लानी होगी, तभी हम कोरोना का हरा सकेंगे। स्टेट नोडल ऑफिसर डॉ. प्रदीप शर्मा ने इस अवसर पर अतिथियों का कोरोना बचाव किट और पौधे देकर स्वागत और सम्मान किया। उन्होंने बताया कि वाहन रैली में करीब 200 वाहन शामिल रहे। यह रैली रामनिवास बाग से जवाहर सर्किल होते हुए प्रमुख मार्गों से होते हुए वापस रामनिवास गार्डन आकर समाप्त हुई। इस अवसर पर मिशन निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन नरेश ठकराल, आरसीएच निदेशक लक्ष्मण सिंह ओला और पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित रहे।