October 27, 2020

जीप की टक्कर से ई-रिक्शा सवार महिला की मौत, 9 जने घायल

जीप चालक की गिरफ्तारी और पुलिस की लापरवाही पर रातभर से धरना जारी, सीकर के खाटूश्यामजी इलाके का मामला

खाटूश्यामजी, (निसं.)। सीकर जिले में खाटूश्यामजी रींगस रोड पर बीती शाम जीप की टक्कर से ई- रिक्शा सवार एक महिला की मौत व 9 जनों के घायल होने के मामले में रात को शुरू हुआ कस्बेवासियों का धरना प्रदर्शन शुक्रवार को भी जारी है। प्रदर्शनकारियों की मांग है कि फरार जीप चालक को गिरफ्तार करने के साथ मामले को रींगस थाने का बताकर घटना स्थल से वापस लौटने वाले दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई हो। मांग नहीं माने जाने तक प्रदर्शनकारी उठने को तैयार नहीं है।
पुलिस के अनुसार खाटूश्यामजी के वार्ड 11 निवासी मीरा देवी वर्मा (56) पत्नी कुरड़ाराम, माया देवी, कमलेश देवी, सोहन, राहुल, हरीश, चालक धोलूराम गवारिया, किशनलाल नायक (17), सुंडाराम (15), सीताराम उर्फ फत्तुराम (45) गुरुवार सुबह आभावास में अपने रिश्तेदार के यहां तिलक कार्यक्रम में ई-रिक्शा लेकर गए थे। शाम को वापिस लौटते समय चौमूं पुरोहितान के आगे निकलते ही जीप ने टक्कर मार दी। इनमें से मीरा देवी की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि जहां चालक धोलूराम, माया देवी और सीताराम के गंभीर चोट लगने से उन्हें सीकर रैफर कर दिया। वहीं बाकी घायलों का प्राथमिक उपचार कर उन्हें छुट्टी दे दी। लोगों का आरोप है कि घटना के बाद खाटूश्यामजी पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन, रींगस थाने का मामला बताकर वापस लौट आई। इसकी वजह से ही समय रहते महिला को उपचार नहीं मिलने से उसकी मौत हो गई। ऐसे में गुस्साए कस्बेवासी गुरुवार शाम को ही खाटूश्यामजी सीएचसी में धरने पर बैठ गए और दोषी पुलिसकर्मियों व जीप चालक के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

सीमा विवाद, लोगों की भीड़ एकत्रित
थाना सीमा विवाद इतना बढ़ गया कि देखते ही देखते लोगों की भीड़ खाटू अस्पताल में पहुंच गई। शाम 7बजे से लेकर रात 12 बजे चला सीमा विवाद धरने में बदल गया। सूचना पर थाना प्रभारी पूजा पूनिया, रींगस सीआई रघुवीर शरण शर्मा और नपा पार्षद श्यामसुन्दर पूनिया की समझाइश के बाद लोग शांत हुए और मृतक का शव मोर्चरी में रखवाया।

रातभर से जारी प्रदर्शन
जीप चालक की गिरफ्तारी व दोषी पुलिसकर्मी के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर प्रदर्शनकारियों का खाटूश्यामजी सीएचसी पर शुरू हुआ धरना शुक्रवार को अब भी जारी है। प्रदर्शनकारी अब भी अपनी मांग पर अड़े हैं। इसके बाद ही शव का पोस्टमार्टम करने की बात कह रहे हैं। रींगस सीआई रघुवीर शरण व थानाप्रभारी पूजा पूनियां सहित प्रशासनिक अधिकारी प्रदर्शनकारियों को समझाने में जुटे हैं।