November 24, 2020

जुनून ऐसा कि साइकिल से ही पहुंचे केदारनाथ

अक्टूबर में पक्के इरादों के साथ निकले थे

फरीदाबाद, 7 नवम्बर (एजेंसी)। शहर के जवाहर कालोनी में रहने वाले 22 वर्षीय मोहित चौधरी अपने हौंसले एवं पक्के इरादों के बल पर केदारनाथ तक साइकिल से पहुंचे और भगवान शिव के दर्शन करके वापस लौट रहे हैं। मोहित की भगवान शिव के प्रति आस्था ऐसी कि उन्हें कठिनाइयों से भरे रास्ते भी आसान लग रहे थे। मोहित बीए तृतीय वर्ष की परीक्षा देने के बाद 31 अक्टूबर को फरीदाबाद से केदारनाथ के लिए सुबह पांच बजे रवाना हुए थे। प्रतिदिन 100 किलोमीटर से ज्यादा साइकिल चलाने के बाद वह चार नवंबर को केदारनाथ के कपाट तक पहुंच गए थे। भगवान शिव के दर्शन करने के बाद अब वह वापस फरीदाबाद लौट रहे हैं। मोहित ने बताया कि वह अपने साथ टेंट भी ले गए हैं। सुबह आठ बजे से शाम छह बजे तक साइकिल चलाते हैं और इसके बाद वह अपने टेंट लगाकर आराम करते हैं। वह तीन नवंबर को गौरीकुंड तक पहुंच गए थे।

पुलिस ने अनुमति दी
केदारनाथ की चढ़ाई शुरू करने से पूर्व पुलिस वाले साइकिल नहीं ले जाने दे रहे थे। उनके मजबूत इरादों देखकर पुलिस वालों साइकिल ले जाने की अनुमति दे दी। केदारनाथ की चढ़ाई के दौरान उन्हें कई तरह की परेशानियों का भी सामना करना पड़ा। उबड़-खाबड़ एवं पहाड़ी रास्ते पर साइकिल चलाने में परेशानी आ रही थी। वहीं सीढिय़ां होने पर साइकिल पर अपने कंधे पर रखकर चढ़ाई की और चार अक्टूबर की शाम को केदारनाथ मंदिर पर पहुंच गए और दर्शन कर लौट रहे हैं।

एनसीसी में मिली प्रेरणा
मोहित ने बताया कि वह डीएवी कालेज के छात्र हैं और प्रथम वर्ष में एनसीसी ली थी और वह दो वर्ष कर्नाटक में हुए नेशनल नौ सैनिक कैंप में स्वर्ण पदक भी जीत चुके हैं और वहीं से ही साइकिल चलाने का शौक लगा। समय बीतने के साथ यह शौक जुनून बन गया। मोहित जैसे नव युवा मोटरसाइकिल से कालेज आने में अपनी शान समझते हैं। वहीं मोहित को साइकिल से ही कालेज आना पसंद हैं। मोहित अभी हाल ही में पंजाब द साइकलिस्ट ग्रुप द्वारा आयोजित आनलाइन प्रतियोगिता में पहला स्थान प्राप्त किया है।