Thu. Aug 22nd, 2019

टिप्स: गरमी में घर की क्लीनिंग है जरूरी

दागधब्बे और बदबू हटाने के लिए होममेड टिप्स न सिर्फ साफ-सफाई पर होने वाले खर्च से बचाएंगे बल्कि आपको रिलेक्स और खुशी भी देंगे। लेकिन घर पर इस्तेमाल होने वाली चीजों का भी उसे लेकर भी सावधानियां बरतना जरूरी है। जिसके लिए आपको कुछ ऐसी चीजों का ध्यान जरूरी है। आइए आपको बताते हैं कुछ टिप्स, जिनसे आप घर के ख्याल के साथ-साथ अपना भी ख्याल रख पाएंगी। दागधब्बे या जंग लगने से खराब लगने वाले गैस के चूल्हे की समस्या तो हर गृहिणी को रहती है। आप बार-बार सफाई के लिए अपने चूल्हे को दुकान भी तो भेज नहीं सकतीं। ऐसे में बाजार से खरीदा गया सफाई करने वाला या चिकनाई हटाने वाला सामान जब आप को सही परिणाम नहीं देता तो चूल्हा फेंकने या नया खरीदने का ही मन करता है। लेकिन ऐसा न कर के आप एक बार इस नुस्खे को आजमाएं।

गैस की ऐसे करें सफाई
50 ग्राम कास्टिक सोडा पाउडर किसी भी हार्डवेयर की दुकान में मिल जाएगा। इसे 2 लिटर पानी में डाल कर एक लकड़ी के डंडे से मिलाएं। अब अधिक चिकनाई या गंदगी वाली जगहों पर उसे डालें फिर ब्रश से हल्के से रगड़ें।

बाथरूम क्लीनिंग के लिए इन चीजों का रखें ध्यान
गंदगी ज्यादा हो तो इसे दोहराएं। बाथरूम में खारे पानी से आप के फ्लोर टाइल्स और वाशबेसिन पर लगे दाग अच्छे नहीं लगते हैं। नलों और शावर पर तो उन की एक परत ही जमा हो जाती है। आप अपने बाथरूम में हार्पिक या ऐसी ही सफाई की कोई दूसरी चीज टाइल्स, वाशबेसिन और नलों और शावर पर डाल कर उन्हें तुरंत साफ कर लें वरना दाग लग जाएंगे।

मकड़ी के जालों और कीड़ों की ऐसे करें सफाई
चींटियां, काकरोच, मकड़ी, छिपकली व सिल्वर फिश तो बिन बुलाए मेहमान की तरह घर में आ बैठती हैं। इन का घर में होने का मतलब यह है कि घर के कुछ हिस्से साफ नहीं हैं। जब दीवारों की सीलिंग पर मकड़ी का जाला लगना शुरू हो जाए, तो उस के फैलने से पहले आप उस का सफाया कर दें। जाला बढ़ जाने पर छिपकलियां जाले में फंसे कीड़ों की ओर आकर्षित हो कर सीलिंग पर रेंगती नजर आती हैं। ऐसी नौबत न आने दें। छिपकलियां अगर आप को अपने कमरों के फर्श पर रेंगती नजर आएं, तो कमरों के कोनों में अंडे का छिलका रख दें। चींटियों से नजात पाने के लिए बोरैक्स पाउडर में थोड़ी सी चीनी मिला कर चींटियों के पास रख दें। यह काकरोच से नजात दिलाने में भी मदद करता है। लेकिन अगर घर में छोटे बच्चे हैं तो बोरैक्स पाउडर बच्चों से छिपा कर रखें या खडिय़ा को पानी में मिला कर चींटियों के पास डाल दें। आप ने अकसर देखा होगा कि सिल्वर फिश आप की किताबों और कपड़ों पर हमला कर उन्हें खाना शुरू कर देती हैं। आप नीम या यूकलिप्टस के पत्तों को एक छोटे बरतन में डाल कर किताबों के पास रख सकती हैं। इस से किताबों में खुशबू भी आएगी और सिल्वर फिश भी नहीं आएंगी।

कपड़ों का रखें ऐसे ध्यान
कपड़ों के बीच में आप एक पाउच या थैली में यूकलिप्टस या लैवेंडर का तेल छिड़क कर रख सकती हैं। फ्रिज में से अगर दुर्गंध आ रही हो तो आप उस में ताजा केवड़े का फूल या पिसी दालचीनी को एक कटोरे में डाल कर रख सकती हैं। इस के अलावा संतरा खाएं तो उस के छिलके न फेकें। उन्हें एक कटोरे में डाल कर फ्रिज के अंदर रख दें। इस से दुर्गंध तो चली ही जाएगी फ्रिज में संतरे की महक 4-5 दिनों तक बनी रहेगी।

गमलों का भी ध्यान रखना है जरूरी
अगर आप के घर में बहुत मच्छर हैं तो छोटे गमले में आप पुदीना उगा कर कुदरती रूप से मच्छरों को भगा सकती हैं। इस से न सिर्फ मच्छर कम होंगे, बल्कि आप के घर में खुशबू भी बनी रहेगी। पुदीने की डंडियों से पत्ते निकालने के बाद उन्हें फेंकें नहीं। उन्हें गमले में लगा दें और उस में रोज थोड़ा पानी डालें। हफ्ते भर में पुदीने की पत्तियां फिर निकलना शुरू हो जाएंगी।