October 27, 2020

तारे में जबरदस्त धमाका, सूरज से ज्यादा चमक दिखी

  • नासा ने जारी किया वीडियो

वाशिंगटन, 7 अक्टूबर (एजेंसी)। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने एक तारे में हुए भीषण विस्फोट का अद्भुुत वीडियो रिकॉर्ड किया है। नासा के मुताबिक यह धमाका धरती से लगभग 7 करोड़ प्रकाश वर्ष की दूरी पर स्थित एसएन 2018 जीवी सुपरनोवा में हुआ था और इससे पहले इस तरह का वीडियो नहीं देखा गया है। परनोवा किसी तारे में हुए भयंकर विस्फोट को कहते हैं और ये सुपरनोवा एनजीसी 2525 गैलेक्सी में नजर आया। ऐसे ही एक विस्फोट के बाद पृथ्वी का जन्म हुआ है ऐसा माना जाता है। नासा के मुताबिक सुपरनोवा एसएन 2018 जीवीकी खोज पहली बार 2018 में जापान के एक शौकिया खगोल विज्ञानी कोइची इतागाकी ने की थी। इतागाकी ने अपने इस खोज के बारे में नासा को बताया था, जिसके बाद इस अमेरिकी स्पेस एजेंसी ने हब्बल टेलिस्कोप की मदद से इस सुपरनोवा पर नजर रखनी शुरू कर दी थी। हाल में ही नासा ने इस सुपरनोवा पर एक साल तक नजर रखने का स्लोमोशन वीडियो जारी किया है। इस वीडियो में तारे में आता बदलाव और एक जबरदस्त विस्फोट नजर का रहा है। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ने बताया कि इस विस्फोट में सूरज से 5 अरब गुना ज्यादा चमक देखी गई है। कहा जाता है कि ये विस्फोट इतने शक्तिशाली होते हैं कि आकाशगंगाओं को कई प्रकाश वर्ष तक फैला सकते हैं। इनसे निकलने वाला प्रकाश इतना तीव्र होता है कि पृथ्वी से आधे ब्रह्मांड तक को देखा जा सकता है। अंतरिक्ष में तारे के टूटने से जो ऊर्जा पैदा होती है उसे सुपरनोवा कहा जाता है। सुपरनोवा का उपयोग आकाशगंगाओं की दूरियों को मापने के लिए मानक के रूप में किया जा सकता है। इससे यह भी पता लगता है कि एक आकाशगंगा दूसरी आकाशगंगा से कितनी तेजी से दूर जा रही है। यह किसी तारे का अंतिम समय होता है।