October 23, 2020

धोनी की फिटनेस का जवाब नहीं

टीम इंडिया के पूर्व ट्रेनर ने बोले, महेन्द्र सिंह के रिफ्लेक्सेस किसी कार रेसर जैसे

नई दिल्ली, (एजेंसी)। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ट्रेनर रामजी श्रीनिवासन ने महेंद्र सिंह धोनी की फिटनेस को लेकर तारीफ की है। उन्होंने लंबे समय तक चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) के साथ काम किया है। श्रीनिवासन ने कहा कि धोनी की फिटनेस को लेकर कोई सवाल नहीं खड़ा कर सकता, वे आज भी दुनिया के टॉप रेसिंग ड्राइवर्स को चुनौती दे सकते हैं।
उन्होंने कहा कि क्या आपने पृथ्वी शॉ को स्टंप आउट करते हुए धोनी को देखा था? धोनी की रिफ्लेक्सेस स्पीड 0.32 सेकंड है, जो कि टॉप क्वालिटी है। अगर आप कैलकुलेट करें तो दुनिया में कुछ रेसर्स की यही स्पीड है। टॉप एथलीट की रेंज 0.35 से 0.45 सेकेंड होती है।

हर खिलाड़ी के पास इसका विकल्प रहता है
यह पूछे जाने पर कि क्या क्रिकेटर अपनी फुर्ती बढ़ा सकते हैं? श्रीनिवासन ने कहा, बिल्कुल, हर खिलाड़ी के पास इसका विकल्प रहता है। ऐसी बहुत एक्सरसाइज हैं, जिसके जरिए खिलाड़ी अपनी फुर्ती को बढ़ा सकता है। क्रिकेट फुर्ती का खेल है, आपकी आंखें और हाथ दोनों की फुर्ती बहुत मायने रखती है। 4 चीजें होती हैं- ज्यादा सक्रियता, दोबारा सक्रिय होने की क्षमता, फुर्ती और मल्टीटास्किंग स्किल। धोनी ने खुद भी कहा है कि मैच में आपकी परफॉर्मेंस फिटनेस पर निर्भर करती है। कोरोना के कारण धोनी 6 महीने तक कोई एक्सरसाइज नहीं कर पाए थे। राजस्थान रॉयल्स से मैच खत्म होने के बाद धोनी ने बताया था कि यूएई में 14 दिन क्वारेंटाइन रहने के बाद यूएई में प्रैक्टिस का ज्यादा मौका नहीं मिल पाया था। यह पूछे जाने पर कि धोनी नीचे बल्लेबाजी करने क्यों जा रहे हैं? धोनी ने कहा, मैंने लंबे समय तक बल्लेबाजी नहीं की और 14 दिन क्वारेंटाइन रहने के बाद यूएई में प्रैक्टिस का ज्यादा मौका नहीं मिल पाया, इस कारण बल्लेबाजी के लिए नीचे उतरा था।