November 24, 2020

निगम चुनाव घोषणा-पत्रों से दिग्गज गायब हुए

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 28 अक्टूबर। नगर निगम चुनावों में कांग्रेस और बीजेपी घोषणा पत्र जारी कर चुकी है। जितने विवाद घोषणा-पत्र में शामिल मुद्दों को लेकर हैं, उतना ही विवाद अब इन पर छपे नेताओं की तस्वीरों को लेकर हो गया है। बीजेपी के घोषणा-पत्र पर पूर्व सीएम वसुंधरा राजे का फोटो नहीं है। उधर, कांग्रेस के घोषणा-पत्र से सचिन पायलट की तस्वीर गायब है। कांग्रेस के घोषणा-पत्र में सीएम अशोक गहलोत, पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा और यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल के फोटो हैं।
परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने बीजेपी के विजन डॉक्युमेंट पर निशाना साधते हुए कहा है कि इसमें पूर्व सीएम वसुंधरा राजे की तस्वीर नहीं है। घोषणा-पत्र में वसुंधरा राजे का फोटो न होने का मतलब यह है वह उनके विजन को नहीं मानती हैं। कांग्रेस के घोषणा-पत्र पर सचिन पायलट का फोटो नहीं होने के बारे में खाचरियावास ने कहा कि सचिन पायलट अभी प्रदेशाध्यक्ष नहीं हैं जो उनका फोटो लगाते। वे डिप्टी सीएम भी नहीं रहे। पायलट इनमें से किसी पद पर होते तो फोटो लगता।

विजन डॉक्यूमेंट में किए गए वादों पर सवाल
बीजेपी की ओर से सोमवार को जारी विजन डॉक्युमेंट में किए गए कई वादों पर सवाल उठ रहे हैं। बीजेपी के घोषणा-पत्र में बहुत से वादे ऐसे हैं जो सरकार के स्तर पर पूरे किए जाने वाले हैं। उनमें नगर निगम कुछ नहीं कर सकता। प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा विजन डॉक्युमेंट के नाम पर बीजेपी झूठ का पुलिंदा लेकर आई है। कांग्रेस के संकल्प-पत्र से बहुत से बिंदु कॉपी किए गए हैं। जन्म-मृत्यु प्रमाण-पत्र ऑनलाइन बनाने का वादा विजन डॉक्यूमेंट में किया गया है जबकि यह सेवा पहले से ही ऑनलाइन है। खाचरियावास ने कहा कि बीजेपी के नेता अपडेट नहीं हैं।