October 20, 2020

पंजाब ने यूएई में 2014 में पांचों मैच जीते, इस बार 5 में से 4 हारी

कप्तान राहुल सबसे ज्यादा रन के मामले में टॉप पर, लेकिन पावरप्ले में स्ट्राइक रेट सबसे कम

नई दिल्ली, (एजेंसी)। रविवार को चेन्नई सुपरकिंग्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को 10 विकेट से हराया। यह पंजाब की मौजूदा सीजन के 5 मैचों में चौथी हार है। इस बार लीग के मुकाबले यूएई में खेले जा रहे हैं। 2014 में भी लीग के कुछ मैच यूएई में खेले गए थे, तब पंजाब ने सभी 5 मुकाबले जीते थे। वहीं, मुंबई इंडियंस को 2014 में सभी 5 मैच में हार मिली थी। लेकिन इस सीजन में टीम 4 में से 3 मुकाबले जीतकर टॉप पर है। पंजाब की 4 हार के साथ उसके प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद काफी कम हो गई है। पंजाब कभी भी लीग का खिताब नहीं जीत सका है। पंजाब के कप्तान राहुल 302 रन के साथ टॉप पर है, लेकिन पावरप्ले में उनका स्ट्राइक रेट कम हुआ है। शुरुआती 6 ओवर में उनके स्ट्राइक रेट में 2018 की तुलना में 38 रन की कमी आई है। यह तीन सीजन में सबसे कम है। राहुल 120 की स्ट्राइक रेट यानी 100 गेंद पर 120 रन बना रहे हैं। 2018 में वे 158 रन बनाते थे।

15 से अधिक की इकोनॉमी से रन दे रहे
डेथ ओवर यानी 16 से 20 ओवर के बीच पंजाब के गेंदबाजों का प्रदर्शन सबसे खराब है। उसके गेंदबाज हर ओवर में औसतन 15 से अधिक रन दे रहे हैं। वहीं, चेन्नई का डेथ ओवर में प्रदर्शन सबसे अच्छा है। चेन्नई ने इन ओवरों में सबसे ज्यादा 11 विकेट लिए हैं। पंजाब के खिलाफ मैच से पहले चेन्नई के बल्लेबाज पावरप्ले में औसतन 40 रन बना रहे थे। यह सबसे कम था। पंजाब के खिलाफ चेन्नई के बल्लेबाजों ने 60 रन बनाए। पावर प्ले में प्लेसिस का स्ट्राइक रेट 117 का था, जो पंजाब के खिलाफ 190 का हो गया। चेन्नई ने पंजाब के खिलाफ चेज करते हुए जीत दर्ज की। मैदान पर पहली बार किसी टीम ने चेज करते हुए जीत दर्ज की। सभी 7 मुकाबलों में पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम को जीत मिली थी।