October 23, 2020

पर्यावरण के प्रति रहें संवेदनशील : मुख्य सचिव

एन.जी.टी. के निर्देशों की क्रियान्विति की समीक्षा बैठक

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 13 अक्टूबर। मुख्य सचिव राजीव स्वरूप ने कहा कि राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) तथा उच्चतम न्यायालय के आदेशों की पालना के लिए सभी संबंधित विभागाध्यक्ष तथा जिला कलेक्टर योजना बनाकर सभी मुद्दों को सूचीबद्ध कर उनकी अनुपालना सुनिश्चित कराएं एवं पर्यावरण के प्रति जिम्मेदार बनें। मुख्य सचिव राजीव स्वरूप शासन सचिवालय सें वर्चुअल विडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सम्बोधित करते हुए विभागों के अधिकारियों एवं विभिन्न जिला कलेक्टर के साथ राष्ट्रीय हरित अधिकरण के तहत जिलों में किए गए कार्यों और विचाराधीन मामलों की समीक्षा बैठक ले रहे थे।

कलेक्टर्स को दिए निर्देश : मुख्य सचिव ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए पर्यावरण के प्रति हमें बेहद संवेदनशील होना पड़ेगा। उन्होंने सभी जिला कलेक्टर्स को निर्देशित किया कि वे एनजीटी के आदेशों को ध्यान में रखते हुए लम्बित मुद्दों हैं, उन्हें सूची बनाकर पूरी जिम्मेदारी के साथ अक्टूबर माह के अंत तक पूर्ण कराए। उन्होंने निर्देश दिए एनजीटी ने सॉलिड वेस्ट, प्लास्टिक वेस्ट, प्रदूषण, बायोमेडिकल वेस्ट, ई-वेस्ट तथा कस्टं्रक्शन आदि के प्रबंधन के लिए जो नियम बनाए है उनका कड़ाई से पालन हो।

‘जिला पर्यावरण योजना’ बनाकर भेजें: सीएम ने सभी जिला कलेक्ट्रर्स को निर्देश दिए कि वे 30 नवम्बर, 2020 तक अपने-अपने जिले की ‘जिला पर्यावरण योजना’ बनाकर केन्द्रीय प्रदूषण नियत्रंण मंडल को प्रस्तुत करें एवं केन्द्र सरकार के ‘100 दिन के आर्द्रभूमि कार्यक्रमÓ के तहत अपने जिले में एक आद्र्रभूमि क्षेत्र की पहचान करे। मुख्य सचिव ने कहा कि जिला कलेक्टर सुनिश्चित कराएं कि किसी भी औद्योगिक एवं अन्य अपशिष्ट को औद्योगिक क्षेत्र के बाहर नहीं जलाया जाएं। बैठक में पर्यावरण सरक्षंण से जुडें अन्य मुद्दों पर वन एवं पर्यावरण सचिव श्रेया गुहा ने प्रस्तुतीकरण देकर विस्तृत जानकारी दी। इस अवसर पर खान विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुबोध अग्रवाल, जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव, राजेश्वर सिंह, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख शासन सचिव अखिल अरोरा, स्वायत्त शासन विभाग के सचिव भवानी सिंह देथा एवं अन्य विभागों के अधिकारी तथा विभिन्न जिलों के जिला कलेक्टर वीडियों कॉन्फ्रेंसिंग में मौजूद थे।