September 22, 2020

पर्यावरण संतुलन आज की आवश्यकता: डॉ. शर्मा

जयपुर, 6 जून। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि प्रदेश का पर्यावरण जितना संतुलित रहेगा, कोराना जैसी महामारी का प्रकोप उतना ही कम होगा। उन्होंने कहा कि जिस तरह लॉकडाउन के दौरान बिना प्रदूषण के प्रकृति खिलखिलाने लगी थी, यदि सभी लोग पर्यावरण संतुलन का ध्यान रखेंगे तो ऐसे नजारे स्थाई हो सकते हैं। डॉ. शर्मा कल ये बात विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर एसएमएस अस्पताल के ट्रोमा वार्ड में सामाजिक एवं आर्थिक विकास संस्थान की ओर से आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम में शिरकत के दौरान कही।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा नरेगा के कामों में भी ज्यादा से ज्यादा पौधारोपण या वृक्षारोपण के काम को अनुमत किया है। इसके अलावा निरोगी राजस्थान के 10 बिंदुओं में पर्यावरण को अहमियत दी गई है। उन्होंने आमजन का आह्वान करते हुए कहा कि पर्यावरण का संरक्षण करके आने वाले कल को संवारा जा सकता है। चिकित्सा मंत्री ने कहा कि सामाजिक एवं आर्थिक विकास संस्थान पिछले 13 वर्षों से पौधारोपण का कार्य कर रहा है। ऐसे पुनीत कार्यों में सभी संगठनों और संस्थाओं को आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश का पर्यावरण जितना अधिक संतुलित रहेगा प्रदेश में उतनी ही अच्छी बारिश होगी। उन्होंने कोरोना काल में युद्ध स्तर पर कार्य कर रहे चिकित्सकों और स्टाफ की प्रशंसा की और बतौर कोरोना वारियर्स उनका सम्मान भी किया। उन्होंने इस अवसर पर ट्रोमा प्रांगण में वृक्षारोपण भी किया। इस अवसर पर सवाईमानसिंह मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ.सुधीर भंडारी, अस्पताल के अधीक्षक राजेश शर्मा, सामाजिक एवं आर्थिक विकास संस्थान के संरक्षक डॉ. एसडी शर्मा, राजस्थान राज्य नर्सेज एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष राजेंद्र सिंह राना व अन्य गणमान्य उपस्थित रहे।