Wed. Sep 18th, 2019

पुष्कर में आज से आरएसएस की बड़ी बैठक

तीन दिन तक 200 पदाधिकारियों की रहेगी मौजूदगी

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपपुर, 7 सितम्बर। पुष्कर में आज से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय समन्वय बैठक शुरू होगी। बैठक में अलग अलग संगठनों के 200 पदाधिकारियों की मौजूदगी रहेगी। इस बार विभिन्न मुद्दों के साथ राष्ट्र सुरक्षा जैसे विषय पर और महिला सशक्तिकरण के मुद्दों पर भी मंथन होगा। 9 सितंबर तक चलने वाली संघ की अखिल भारतीय समन्वय बैठक में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जय प्रकाश नड्डा, विश्व हिंदू परिषद के अंतर राष्ट्रीय अध्यक्ष समेत विभिन्न अनुषांगिक संगठनों के पदाधिकारियों की मौजूदगी रहेगी जिसमें भारतीय मजदूर संघ, भारतीय किसान संघ,भारतीय शिक्षक संघ समेत अलग-अलग क्षेत्रों में काम करने वाले दर्जनों संगठनों के पदाधिकारियों की मौजूदगी रहेगी।

जनसंख्या नियंत्रण और राम मंदिर पर चर्चा का प्रस्ताव नहीं
हालांकि आरएसएस का कहना है कि जनसंख्या नियंत्रण और राम मंदिर जैसे मुद्दे फिलहाल चर्चा के लिए प्रस्तावित नहीं है लेकिन यदि सम्मेलन में आए प्रतिनिधि इस बारे में विषय रखते हैं तो चर्चा की जाएगी। इस बार के इस अखिल भारतीय बैठक में राष्ट्र सुरक्षा के मुद्दे पर खास तौर पर मंथन किया जाएगा जिसमें सीमा क्षेत्रों में सभी संगठन किस तरह से अपनी जिम्मेदारी निभाएं इस विषय को लेकर चर्चा होगी।

200 लोग मौजूद रहेंगे
बैठक में अलग-अलग क्षेत्रों में काम करने वाली महिलाओं की स्थिति पर भी विचार किया जाएगा। महिला समाज के प्रश्नों के अध्ययन की रिपोर्ट इस बैठक में रखी जाएगी। महिलाओं की निर्णयों में भागीदारी कैसे बढ़े और सुरक्षा के साथ विकास जैसे मुद्दों पर भी मंथन किया जाएगा। अखिल भारतीय समन्वय बैठक निर्णय लेने वाली बैठक नहीं है। सभी लोग साल में एक बार अपने अपने क्षेत्रों के अनुभव साझा करते हैं और इसी कल्पना को लेकर 200 लोग इस बैठक में मौजूद रहेंगे। पिछली बार यह बैठक आंध्र प्रदेश में हुई थी उस समय तीन विषय प्रमुखता से आए थे उनमें प्रमुख एक विषय था पर्यावरण व जल संकट जिसे लेकर एक साल से सभी संगठन अपने अपने क्षेत्रों में प्रयास कर रहे हैं। दूसरा खास विषय था कि सभी संगठनों में नई पीढ़ी आगे आए और तीसरा था संस्कारों का दृढ़ीकरण। इसी तरह से इस बार भी कई ऐसे विषय आएंगे जिनको लेकर विभिन्न संगठन अपने-अपने क्षेत्रों में काम करेंगे। हालांकि 9 सितंबर को दत्तात्रेय होसबोले अखिल भारतीय समन्वय बैठक में की गई चर्चा के विभिन्न विषयों को लेकर जानकारी देंगे।

राष्ट्र सुरक्षा विषय पर हो सकता मंथन
एक बात खासतौर पर मानी जा रही है कि जब राष्ट्र सुरक्षा के विषय पर मंथन होगा तो ऐसे में घुसपैठियों को बाहर भगाने जैसे फैसले की चर्चा भी स्वाभाविक रूप से होगी तो वहीं दूसरी तरफ लव जेहाद जैसे मुद्दों पर भी चर्चा की जा सकती है। देखना यह होगा कि संघ की इस बैठक में कौन कौन से प्रमुख मुद्दे चर्चाओं में आते हैं।