September 22, 2020

पेंगोंग में आमने-सामने हैं सेनाएं

तनाव के बीच लद्दाख पहुंचे आर्मी चीफ

नई दिल्ली, 4 सितम्बर (एजेंसी)। पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत और चीन में जारी तनाव के बीच सेना प्रमुख एमएम नरवणे लद्दाख पहुंचे हुए हैं। यहां उन्होंने साउथ पैंगोंग समेत अन्य जगहों पर हालात का जायजा लिया।

आक्रामक रुख जारी
भारतीय सेना वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के साथ सभी संवेदनशील क्षेत्रों में अपना आक्रामक रुख जारी रखेगी, ताकि चीन के किसी भी दुस्साहस से प्रभावी ढंग से निपटा जा सके। चीन की उकसाने वाली कार्रवाई को नाकाम करने के कुछ दिनों बाद भारत ने पैंगोंग सो इलाके के दक्षिणी तट पर सामरिक रूप से महत्वपूर्ण कम से तीन पर्वत चोटियों पर अपनी उपस्थिति और मजबूत की है। सरकारी सूत्रों ने यह जानकारी दी। वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के भारतीय सीमा के अंदर पैंगोंग झील के उत्तरी तट पर भी एहतियाती उपायों के तहत सैनिकों की तैनाती में कुछ बदलाव किये गये हैं। इलाके में स्थिति संवेदनशील बनी हुई है। सूत्रों ने यह भी बताया कि तनाव घटाने के लिये दोनों पक्षों के सेना कमांडरों की बुधवार को हुई एक और दौर की वार्ता बेनतीजा रही।उन्होंने बताया कि भारत ने पूर्वी लद्दाख में सामरिक रूप से महत्वपूर्ण कई पर्वत चोटियों और स्थानों पर उपस्थिति बढ़ा कर रणनीतिक बढ़त हासिल की है।