September 24, 2020

पेट के रोगों से बचाती है मलाई

मलाई नाम सुनकर ही लोग घबराते हैं कि इससे कोलेस्ट्रॉल बढ़ लाएगा। खासकर लड़कियां इससे खास दूरी बनाती हैं कि कहीं इसे खाने से वजन न बढ़ लाए। बच्चा अगर दूध में मलाई की शिकायत करे तो मां उसे दूध छानकर देती है, ताकि मलाई से उसका मूड खराब न हो जाए, लेकिन मलाई मूड ठीक करने का भी काम करती है। और भी इसके कई फायदे हैं लेकिन सही जानकारी न होने के कारण यह भ्रांतियों से घिरी हुई है। डाइट में मलाई को शामिल करने से कई फायदें होंगे।

कितनी मलाई खाना फायदेमंद है?
फैटी फूड्स जैसे चीज, मक्खन और मलाई को दिल के रोगों का कारण माना जाता रहा है। लेकिन हाल ही में हुए एक नए अध्ययन से यह बात सामने आई है कि जिस डाइट में सैचुरेटेड फैट्स ज्यादा होते हैं, वे वास्तव में स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाते हैं। हर दिन दूध में 2 से 3 चम्मच मलाई लेकर देखिए, उसके अपने फायदे हैं, वजन नहीं बढ़ेगा। नॉर्वे की यूनिवर्सिटी ऑफ बर्गन ने हाल ही में यह खुलासा किया कि प्राकृतिक रूप से हाई फैट वाले आहार, जिसमें काब्र्स कम हो, वह बैड कोलेस्ट्रॉल की बजाय गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ाते हैं और हृदय रोगों का खतरा नहीं बढ़ाते हैं। सबसे जरूरी बात इसे अधिक मात्रा में लेने से बचें।

मलाई क्यों और किस तरह फायदा पहुंचाती है?
मलाई प्राकृतिक प्रोबायोटिक है, जो पाचन के लिए अच्छी है। इससे आंतों का स्वास्थ्य अच्छा रहता है। प्रोटीन का अच्छा स्रोत होने के साथ यह रोगों को रोकती है। जिस प्रकार से यह त्वचा पर लगने पर चमक देती है, उसी प्रकार से शरीर के भीतर जाने पर भी यह भीतर जो गंदगी है, उसे खत्म करने का कार्य करती है। जोड़ों का दर्द है तो मलाई से अच्छा लुब्रिकेंट नहीं हो सकता। इसके खाने से जोड़ दर्द कम होगा और जोड़ों को आसानी से चला सकेंगे। पुरुषों के स्वास्थ्य के लिए मिश्री और मलाई को मिलाकर खाना उत्तम माना गया है। यदि रात को सोते समय 2 चम्मच भी मलाई का सेवन किया तो यह एसिड रिफ्लक्स की तकलीफ से राहत देती है।

वर्कआउट डाइट में शामिल करें मलाई
वर्कआउट के पहले कुछ खाना चाहते हैं तो एक छोटी कटोरी मलाई खा सकते हैं। यह प्रोटीन का अच्छा स्रोत माना गया है। मात्र 50 ग्राम मलाई में खासा कैल्शियम होता है, जो न केवल हड्डियों के लिए अच्छा है, बल्कि नाखूनों को भी स्वस्थ रखता है। साथ ही प्रोटीन मसल्स के लिए खास फायदेमंद होता है। इसे बिना शक्कर के लेना ज्यादा बेहतर है।

यह रोगों से कैसे बचाती है?
मलाई में लैक्टिक फर्मेन्टेशन प्रोबायोटिक होता है, यह सूक्ष्मजीव आंतों को सेहतमंद रखते है जिससे पेट से जुड़े रोग दूर रहते हैं। इसके अलावा इसमें मौजूद विटामिन-ए और प्रोटीन होता है जो इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाते हैं और रोगों से लडऩे की क्षमता बढ़ती है।