November 24, 2020

पॉमोलिन तेल में तैयार लड्डू देसी घी के बताकर बेच रहे थे, टीम ने नष्ट कराई मिठाई

  • खातीपुरा इलाके का मामला, गुरु कृपा जोधपुर मिष्ठान भंडार पर कार्रवाई
  • शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत टीम सक्रिय

जयपुर, 31 अक्टूबर। त्योहारी सीजन में मिलावट खोरों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए जयपुर जिला प्रशासन द्वारा 26 अक्टूबर से 14 नवम्बर तक चलाए जा रहे ‘शुद्ध के लिए युद्ध अभियान’ के पांचवे दिन शुक्रवार को खाद्य निरीक्षकों की टीमों ने खातीपुरा रोड, विराट नगर, बगरू, मालवीय नगर में कार्रवाई की। एक दुकान पर पॉमोलिव ऑयल में तैयार लड्डुओं को देसी घी का बताकर बेचा जा रहा था। इसी दुकान पर कई खाद्य सामग्री अवधिपार मिली। यहां 50 किलो दूषित मिठाई को नष्ट कराया गया। अतिरिक्त जिला कलेक्टर चतुर्थ एवं अभियान के प्रभारी अशोक कुमार ने बताया कि खाद्य निरीक्षकों की प्रथम टीम ने खातीपुरा रोड स्थित मैसर्स ‘गुरु कृपा जोधपुर मिष्ठान भंडार’ पर कार्रवाई की। यहां पर मोतीचूर के लड्डू रिफाइंड पॉमोलिन तेल में तैयार कर उन्हें देसी घी में तैयार बताकर ऊंचे दाम पर बेचा जा रहा था। टीम ने ग्राहक बनकर पूछा तो देसी घी में निर्मित होना बताया लेकिन जब कार्रवाई की जाने लगी तो रिफाइंड पॉमोलिन तेल में निर्मित होना स्वीकार किया। यहां अत्यधिक मात्रा में अवधिपार फ्लेवर, फूड कलर और कोल्ड ड्रिंक पाए गए जिन्हें मौके पर नष्ट करवाया गया। अशोक कुमार ने बताया कि इस दुकान पर करीब 50 किलोग्राम दूषित मिठाइयां भी नष्ट करवाई गईं। इसी इलाके के हनुमान नगर में ‘मैसर्स राजधानी बेकर्स एंड स्वीट्स’ से ब्रेड के नमूने लिए गए और 3 लीटर अवधिपार फ्लेवर नष्ट कराया गया। अजमेर रोड जयपुर से ‘मैसर्स भगवती जोधपुर स्वीट सेंटर’ से मावा मिठाई के नमूने लिए गए। उन्होंने बताया कि टीम ने विराटनगर में भी कई जगह खाद्य पदार्थों के सैम्पल लिए। इसमें विराटनगर जयपुर से ‘मैसर्स मंगल ट्रेडर्स’ गणेश रोड के यहां से तिल के तेल का सैंपल लिया गया। विराट नगर के बस स्टैंड स्थित ‘मैसर्स बजाज किराना स्टोर’ से मिर्च पाउडर का सैंपल लिया गया। विराटनगर के ही गणेश रोड से ‘मैसर्स यश ट्रेडर्स’ के यहां से रिफाइंड सोयाबीन तेल का सैंपल लिया गया एवं बस स्टैंड के पास ‘यादव मिष्ठान भंडार’ से बर्फी (मावा मिठाई) का सैंपल लिया गया। ‘मैसर्स श्री सती जोधपुर मिष्ठान भंडार’ से मिश्री मावे का सैंपल लिया गया।