November 24, 2020

प्रदेश में कोरोना को 87 फीसदी ने हराया, 11 दिन में रिकॉर्ड 21 हजार संक्रमित हुए रिकवर

राजधानी में लगातार 7 दिन से 400 से नीचे आ रहे है संक्रमित

जयपुर, 19 अक्टूबर। प्रदेश में डेढ़ लाख लोग कोरोना पॉजिटिव होने के बाद स्वस्थ हो गए। रविवार को प्रदेश में 2088 कोरोना रोगियों के ठीक होते ही महामारी को हराने वालों की संख्या 1,50,379 पहुंच गया। यह कुल संक्रमितों का 86.79 प्रतिशत है। पिछले 11 दिन में रिकॉर्ड 21000 रोगी रिकवर हो चुके हैं। प्रदेश में रिकवरी रेट लगातार बढ़ रही है जबकि नए मरीजों की संख्या अब घटने लगी है। यानी कोरोना का सबसे बुरा दौर संभवत: बीत चुका है। पिछले तीन दिन से नए मरीजों की संख्या में भी गिरावट जारी है। पिछले 11 दिन में रिकॉर्ड 21000 रोगी रिकवर हो चुके हैं। शनिवार को 23 दिन बाद एक दिन में मरीज 2000 से नीचे आकर 1992 तक पहुंचे थे। रविवार को भी पिछले दिन से 7 कम यानी 1985 रोगी मिले। इस दौरान 13 रोगियों की मौत भी हो गई। अब मृतक संख्या 1748 और कुल संक्रमित 1,73,266 हो गए हैं। हालांकि डेढ़ लाख से अधिक रोगियों वाले राज्यों में रिकवरी के मामले में हम अब भी 12वें स्थान पर हैं। 12 राज्यों की रिकवरी रेट हमसे बेहतर है।
राजधानी में 11 दिन में 5457 रोगी ठीक हुए, जबकि नए मरीज आए सिर्फ 3877 यानी इन 8 दिनों की रिकवरी रेट 140.75 प्रतिशत रही। इन 11 दिनों में से 10 दिन ऐसे थे जब जयपुर में रोज नए रोगियों से ज्यादा लोग ठीक हुए। वहीं प्रदेश के जिन जिलों में रिकवरी रेट कम थी अब वहां भी बढऩे लगी है। जोधपुर में रिकवरी रेट 78 प्रतिशत के करीब पहुंच गई है। अलवर में सबसे अधिक 97 प्रतिशत लोग रिकवर हुए हैं। हालांकि मरीजों की संख्या के लिहाज से देखा जाए तो जयपुर और जोधपुर में 20 हजार से अधिक लोग रिकवर हो चुके हैं। जयपुर में 20879 और जोधपुर में 20275 लोग कोरोना को हरा चुके हैं।

राजधानी में 382 पॉजिटिव, 2 की मौत
राजधानी में 10वें दिन भी 400 से नीचे संक्रमित केसेज मिले है। इस तरह से आंकड़ों के कम होने से कोरोना वायरस कमजोर पड़ता नजर आ रहा है। लेकिन अभी मास्क ही वैक्सीन है। रविवार को 382 में से 2 की मौत हुई है। जयपुर में अब तक 28 हजार 871 में से 350 की मौत हो चुकी है। रिकवर 20 हजार 879 व एक्टिव केसेज 7642 है। विभाग की ओर से जारी रिपोर्ट में झोटवाड़ा में 25, मानसरोवर व सोढाला में 21-21, मालवीय नगर-20, बस्सी व जगतपुरा में 17-17, महेश नगर-14, जवाहर नगर व गोपालपुरा में 13-13, मुरलीपुरा, टोंक रोड व सांगानेर में 12-12,दुर्गापुरा-11, तिलक नगर-10, भांकरोटा-9, वैशाली नगर-8, सिविल लाइंस, लाल कोठी, आदर्श नगर में 7-7, गुर्जर की थड़ी-6, झालाना, जेएलएन मार्ग, चांदपोल में 5-5, सांभर, शास्त्री नगर, टोंक फाटक, गोनेर, ब्रहमपुरी, बगरु में चार-चार, आमेर, बनीपार्क , सी-स्कीम, जोबनेर, फुलेरा, राजापार्क में तीन-तीन, कोटपूतली, दूदू, बजाज नगर, एमडी रोड़, रामंगज, चाकसू, शाहपुरा में दो-दो, विराट नगर, सीतापुरा, रामबाग, पुरानी बस्ती, जामडो़ली, हसनपुरा, जमावरामगढ़, गंगापोल, छोटी चौपड़ में एक-एक संक्रमित मिला है।

अब शादी-अंत्येष्टि, धार्मिक या सियासी कार्यक्रम में 100 से अधिक होने पर १० हजार का जुर्माना
सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करवाने के लिए सरकार ने सख्त कदम उठाया है। अब विवाह व अंत्येष्टि के अलावा किसी भी सामाजिक, धार्मिक, राजनीतिक व अन्य उद्देश्य से किए जाने वाले आयोजन के लिए जिला मजिस्ट्रेट की पूर्वानुमति अनिवार्य होगी। ऐसे किसी भी आयोजन में 100 से अधिक लोगों के एकत्र होने पर पाबंदी रहेगी। इससे ज्यादा लोग एकत्र होने, सोशल डिस्टेंसिंग की पालना नहीं करने, मास्क नहीं पहनने तथा बिना पूर्व अनुमति के आयोजन कर राजस्थान महामारी अधिनियम-2020 का उल्लंघन करने वाले आयोजनकर्ता के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी तथा 10 हजार रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा। गृह विभाग ने इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी है। सरकार ने सभी कार्यपालक मजिस्ट्रेटों, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों एवं ब्लॉक विकास अधिकारियों (बीडीओ) को इस कार्रवाई के लिए अधिकृत किया है। उनके क्षेत्र में राजस्थान महामारी अधिनियम-2020 की पालना नहीं करने वालों के विरूद्ध कार्रवाई करने के लिए अधिकृत किया है। ऐसे प्रकरणों में कार्रवाई करने के लिए संबंधित क्षेत्र के सभी कार्यपालक मजिस्ट्रेट, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी तथा ब्लॉक विकास अधिकारी अधिकृत होंगे।