September 23, 2020

बारिश के लिहाज से अगस्त महीना काफी अच्छा रहा

चार दशक का टूटा रिकॉर्ड

नई दिल्ली, 1 सितम्बर (एजेंसी)। मानसूनी सीजन का तीसरा महीना खत्म होने जा रहा है। एक जून से शुरू हुआ यह सीजन 30 सितंबर तक रहता है। बारिश के लिहाज से अगस्त महीना काफी अच्छा रहा। इसमें पिछले 44 साल का देश में बारिश का रिकॉर्ड टूटा। हालांकि विभिन्न राज्यों में अब तक बूंदों के गिरने की रफ्तार असमान रही है। एक जून से 30 अगस्त के बीच सर्वाधिक बारिश गुजरात में हुई है जो सामान्य से 61 फीसद अधिक रही है। हिमाचल प्रदेश और छत्तीसगढ़ में अभी तक सामान्य से कम बारिश दर्ज की गई है। इस मानसूनी सीजन में जून महीने में सामान्य की तुलना में 17 फीसद अधिक बारिश हुई, जबकि जुलाई में यह आंकड़ा 10 फीसद कम रहा। अगस्त में सामान्य के मुकाबले 28.4 फीसद अधिक बारिश हुई। स्काईमेट वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी केे महेश पलावत ने बताया कि जलवायु परिवर्तन के चलते इस बार मानसून की विदाई थोड़ी देर से होगी। यह कहना मुश्किल है कि पूरे सितंबर में बारिश होगी। बीच-बीच में बारिश का दौर चलता रहेगा। अब अल नीनो की जगह ला नीना सक्रिय हो रहा है। इसके चलते प्रशांत महासागर में तापमान कम होने लगेंगे, जबकि मानसून का विस्तार होगा।