September 24, 2020

बिना अवकाश चलेगी संसद

14 सितंबर से 1 अक्टूबर तक मॉनसून सत्र

दिनेश तिवाड़ी
नई दिल्ली , 29 अगस्त। 14 सितंबर से शुरू होने वाला मानसून सत्र बिना कोई अवकाश के एक अक्टूबर तक चलेगा। संसद के दोनों सदनों की कुल 18 बैठकें होंगी। हर दिन के पहले चार घंटे राज्यसभा काम करेगी और अगले चार घंटे लोकसभा। हालांकि सत्र के शुरुआती दिन पहले हॉफ में लोकसभा की बैठक होगी क्योंकि नियमों के मुताबिक स्पीकर ओम बिरला को औपचारिक रूप से सदन के सदस्यों से अनुमति लेनी होगी ताकि अपने कक्ष का इस्तेमाल किसी अन्य प्रायोजन के लिए किया जा सके। मसलन राज्यसभा का कामकाज, जिसके सदस्य कार्यवाही के दौरान निचले सदन के कक्ष में भी बैठेंगे। केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा,प्रत्येक सदन की 4 घंटे ही बैठक होगी। अगर आप हफ्ते के आखिर में छुट्टी देते हैं तो सासंदों के यात्रा करने से जोखिम रहेगा।अवकाश हुआ तो हमें सत्र को 1 अक्टूबर से आगे भी बढ़ाना पड़ेगा। ये सुरक्षित वक्त नहीं है कि सत्र को इतना लंबा चलाया जाए।

11 अध्यादेश लाने की तैयारी
आगामी सत्र मेंए सरकार दोनों सदनों में पास कराने के लिए 11 अध्यादेश लाने को तैयार है। अन्यों के साथ ये संसदीय कार्य मंत्रालय, स्वास्थ्य मंत्रालय,वित्त मंत्रालय और कृषि मंत्रालय से संबंधित हैं।

सरकार हर मुद्दे पर चर्चा को तैयार
चीन से लाइन ऑफ एक्चुुअल कंट्रोल पर गतिरोध जैसे मुद्दों पर संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि सरकार संसद सत्र में किसी भी चर्चा से बचना नहीं चाहती। जोशी ने कहा, समय की कमी के दबाव के बीच सरकार किसी भी चर्चा के लिए तैयार है। यह देश की सुरक्षा का सवाल है। जो भी सामने आएगा, राष्ट्रीय सुरक्षा और इस मुद्दे की संवेदनशीलता को ध्यान में रखते हुए चर्चा की जाएगी। सरकार को किसी तरह की हिचक नहीं है। जोशी फिलहाल संसद में नुमाइंदगी वाले राजनीतिक दलों के नेताओं से फोन पर संपर्क में व्यस्त हैं।