October 23, 2020

बुधवार नीलामी में हाउसिंग बोर्ड ने बेची 286 सम्पत्तियां

अपनी दुकान-अपना व्यवसाय योजना के तहत बेची 185 दुकानें

जयपुर, 8 अक्टूबर। राजस्थान आवासन मंडल ने पहले सप्ताह में ही ‘अपनी दुकान, अपना व्यवसायÓ योजना के तहत 185 दुकानें बेची, जिससे मंडल को 26.57 करोड़ रुपए की आय हुई। वहीं बुधवार नीलामी उत्सव के तहत 101 संपत्तियां बेची, जिससे मंडल को 14 करोड़ 25 लाख रुपए का राजस्व मिला।
आवासन मंडल आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि यह बुधवार मंडल के लिए बम्पर बुधवार रहा। मंडल की ओर से पिछले सप्ताह स्वरोजगार के लिए लांच की ‘अपनी दुकान-अपना व्यवसाय’ योजना में लोगों का उत्साह देखने को मिला। इस योजना में पहले बुधवार को ही 1681 व्यावसायिक सम्पत्तियों में से 185 सम्पत्तियां बिक गईं, जिससे मंडल को 26 करोड़ 57 लाख रूपए का राजस्व मिला। इसके साथ ही बुधवार नीलामी उत्सव के तहत 101 सम्पत्तियां बिकीं, जिससे मंडल को 14 करोड़ 25 लाख रूपए मिले। इस बुधवार मंडल की 286 सम्पत्तियां बिकीं और 41 करोड़ का राजस्व प्राप्त हुआ।
बुधवार नीलामी उत्सव के तहत जयपुर वृत्त प्रथम में 26 लाख 7 हजार रुपए मूल्य की 3 सम्पत्तियां और जयपुर वृत्त द्वितीय में 27 लाख 76 हजार रुपए की 2 सम्पत्ति बिकीं। इसी तरह जोधपुर वृत्त प्रथम और द्वितीय में 1 करोड़ 47 लाख रुपए मूल्य की 11 सम्पत्तियां बिकीं। उन्होंने बताया कि कोटा वृत्त में 2 करोड़ 45 लाख रुपए की 23 सम्पत्तियां, बीकानेर वृत्त में 98 लाख 62 हजार रुपए मूल्य की 5 सम्पत्तियां, उदयपुर वृत्त में 5 करोड़ 17 लाख रुपए मूल्य की 28 सम्पत्तियां और अलवर वृत्त में 3 करोड़ 61 लाख रुपए मूल्य की 29 सम्पत्तियां बिकीं।

8 गुना कीमत पर बिकी दुकान : आयुक्त ने बताया कि जोधपुर की मधुबन योजना में 9 वर्गमीटर की एक दुकान का न्यूनतम बिक्री मूल्य 6 लाख 75 हजार रुपए रखी थी, जो 8 गुना कीमत पर 49 लाख रूपए में बिकी।