September 22, 2020

भारत में सड़क हादसों में आई कमी

  • कमी वाले राज्यों में महाराष्ट्र के बाद राजस्थान दूसरे नंबर पर

नई दिल्ली, 22 अगस्त (एजेंसी)। बीते सात माह पूरी दुनिया ने बड़ी बेचैनी के साथ काटे हैं और ये बेचैनी अब भी कायम है। इसकी वजह है जानलेवा कोविड-19 महामारी। इससे पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था काफी हद तक खराब हो चुकी है। वायरस ने ऐसे कई गम और झटके दिए जिसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की होगी। वहीं इसकी वजह से लगे लॉकडाउन ने हमें कई सकारात्मक बदलावों से भी रूबरू कराया है। लॉकडाउन पर्यावरण ही नहीं, इंसानों के लिए भी जीवनदायक रहा है। इससे भारत में सड़क हादसों में काफी कमी दर्ज की गई है। सरकारी आंकड़े बताते हैं कि 24 मार्च से 31 मई 2020 के बीच सड़क हादसों में जबरदस्त गिरावट आई है। इसी अवधि में वर्ष 2019 में महाराष्ट्र में 2655 मौत सड़क हादसों में हुई थीं, जो इस वर्ष घटकर मात्र 1032 रही। राजस्थान में 2019 में इस दौरान 1706 लोगों ने सड़क हादसों में जान गंवाई थी, जो इस वर्ष मात्र 535 रही। इसी तरह गुजरात में बीते वर्ष 1404 लोगों की जान सड़क हादसों में जान गई थी, जबकि इस वर्ष केवल 504 मौतें रिकॉर्ड की गई हैं। बिहार में 1535 लोगों ने 2019 में सड़क हादसों में जान गंवाई थी, जो इस साल घटकर 637 रही। तेलंगाना में बीते वर्ष जहां 1257 लोग सड़क हादसों में मारे गए थे, 2020 में ये आंकड़ा मात्र 657 मौत का रहा। ये वो राज्य हैं जो बीते वर्ष 24 मार्च से 31 मार्च 2019 के दौरान सड़क हादसों में टॉप-5 में शामिल थे। आंकड़े बताते हैं कि लॉकडाउन में सड़क हादसों में कहीं 50 फीसद तक की गिरावट दर्ज की गई है।