October 28, 2020

मोदी के पास कोई गाड़ी नहीं, सिर्फ 31,450 नकद

  • गृह मंत्री अमित शाह को शेयर मार्केट में हुआ नुकसान

नई दिल्ली, 16 अक्टूबर (एजेंसी)। पीएम मोदी की कुल संपत्ति 30 जून 2020 को बढ़कर 2.85 करोड़ रुपये हो गई है। 2019 के मुकाबले इसमें 36 लाख रुपये की बढ़त हुई है। गौरतलब है कि अब कैबिनेट मंत्रियों सहित प्रधानमंत्री द्वारा भी एसेट की घोषणा करना अनिवार्य हो गया है। गृह मंत्री अमित शाह को शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव से नुकसान हुआ है।

कैसे बढ़ी पीएम मोदी की संपत्ति
पिछले साल पीएम मोदी की संपत्ति 2.49 करोड़ रुपये की थी। ऐसे समय में जब अर्थव्यवस्था की हालत खराब है और शेयर बाजार में भी उतार-चढ़ाव रहता है,पीएम मोदी की संपत्ति कैसे बढ़ गई यह हर कोई जानना चाहेगा। असल में पीएम मोदी की संपत्ति खासकर बैंकों और कई अन्य कई सुरक्षित साधनों में करीब निवेश से बढ़ी है। बैंकों से उन्हें 3.3 लाख रिटर्न मिला है तो अन्य साधनों से 33 लाख रुपये का। इस साल जून के अंत तक पीएम मोदी के पास नकदी सिर्फ 31,450 रुपये की थी। उनके पास गांधी नगर में भारतीय स्टेट बैंक के खाते में 3,38,173 रुपये जमा हैं। इसी खाते के एफडीआर और एमओडी में उनके 1,60,28,939 रुपये जमा हैं। उन्होंने डाक विभाग की नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट में करीब 8,43,124 रुपये जमा कर रखे हैं। उन्होंने जीवन बीमा पॉलिसी में 1,50,957 रुपये और टैक्स सेविंग्स इन्फ्रा बॉन्ड में 20,000 रुपये लगा रखे हैं। इस तरह उनकी चल संपत्ति करीब 1.75 करोड़ रुपये है। प्रधानमंत्री ने कोई लोन नहीं लिया है। उनके पास अपने नाम से कोई व्यक्तिगत गाड़ी नहीं है। उनके पास करीब 45 ग्राम की सोने की चार अंगूठियां हैं जिनकी कीमत करीब 1.5 लाख रुपये है। उनके पास जॉइंट ओनरशिप में गांधीनगर के सेक्टर-1 में करीब 3531 वर्ग फीट का एक प्लॉट है। यह चार लोगों के संयुक्त नाम में है और बाकी तीन अन्य लोगों की हिस्सेदारी 25-25 फीसदी है। यह प्रॉपर्टी 25 अक्टूबर 2002 को खरीदी गई थी। नरेंद्र मोदी के गुजरात के मुख्यमंत्री बनने से ठीक 2 महीने पहले। तब इसकी लागत सिर्फ 1.3 लाख रुपये थी। अब प्रधानमंत्री की अचल संपत्ति की कीमत 1.10 करोड़ रुपये हो गई है।

इतनी है गृह मंत्री अमित शाह की संपत्ति
गृह मंत्री अमित शाह एक धनी गुजराती परिवार से आते हैं लेकिन शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव से उन्हें नुकसान हुआ है। जून 2020 तक अमित शाह की घोषित संपत्ति 28.63 करोड़ रुपये की है। पिछले साल बीजेपी अध्यक्ष के रूप में उन्होंने अपनी संपत्ति 32.3 करोड़ रुपये घोषित कर रखी थी। अमित शाह के पास 10 अचल संपत्तियां हैं। इनमें से कोई भी गुजरात से बाहर नहीं है। उन्हें अपनी मां से विरासत में 13.56 करोड़ रुपये की संपत्ति मिली है। वे भारत की सबसे धनी पार्टी के अध्यक्ष रहे हैं लेकिन उनके पास सिर्फ 15,814 रुपए की नकदी है। उनके बैंक खातों में 1.04 करोड़ रुपये, बीमा और पेंशन पॉलिसी में 13.47 लाख रुपए, एफडी में 2.79 लाख रुपए हैं। उनके पास करीब 44.47 लाख रुपए की ज्वैलरी है। पिछले साल की तुलना में उनकी संपत्ति में आई कमी मुख्यत: उनके पास रहे शेयरों में गिरावट की वजह से आई है। उनके पास विरासत में 12.10 करोड़ रुपए की प्रतिभूतियां (शेयर आदि) हैं और उन्होंने खुद 1.4 करोड़ रुपये की प्रतिभूतियों में निवेश किया है। इस तरह इस साल 31 मार्च तक उनके पास 13.5 करोड़ की प्रतिभूतियां थीं जबकि पिछले साल इनकी कीमत 17.9 करोड़ की थीं। शाह के पास 15.77 लाख की देनदारी भी है। शाह की पत्नी सोनल अमित शाह का नेटवर्थ भी पिछले साल के 9 करोड़ रुपए की तुलना में गिरकर इस साल सिर्फ 8.53 करोड़ रह गया। उनके पास प्रतिभूतियों की बाजार कीमत 4.4 करोड़ से घटकर 2.25 करोड़ रह गई।

रक्षा मंत्री राजनाथ के पास इतनी संपत्ति
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की संपत्ति में पिछले साल के मुकाबले ज्यादा बदलाव नहीं हुआ है। उनके पास 1.97 करोड़ रुपए की चल संपत्ति और 2.97 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति है। उनके पास शेयर बाजार, एलआईसी या पेंशन पॉलिसी में कोई निवेश नहीं है।