September 23, 2020

यूएई में आइसोलेशन में नहीं रहेंगे इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी

नई दिल्ली, (एजेंसी)। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल)फ्रैंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के चेयरमैन संजीव चूड़ीवाला ने बताया कि इस लुभावनी टी-20 लीग में खेलने वाले इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाडिय़ों को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में छह दिन के आइसोलेशन में रहने की जरूरत नहीं पड़ेगी। उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए होगा, क्योंकि वे पहले ही जैव सुरक्षित (बायो-सिक्योर) वातावरण में रह रहे हैं। आरसीबी टीम में आरोन फिंच और मोईन अली जैसे खिलाड़ी मौजूद हैं, जो आईपीएल से पहले तीन टी-20 और तीन वनडे की द्विपक्षीय सीरीज में खेलेंगे। सीमित ओवरों के ये मैच इंग्लैंड में चार से 16 सितंबर तक आयोजित होंगे। वहीं, आईपीएल 19 सितंबर से शुरू होगा और पूरी संभावना है कि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के सभी खिलाड़ी 17 सितंबर को विशेष विमान से यूएई पहुंचेंगे, ताकि वे अपनी टीम के शुरुआती मैच के लिए उपलब्ध हो सकें।

मानक संचालन प्रक्रिया से स्पष्ट
चूड़ीवाला ने कहा, ‘बीसीसीआई की मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) से स्पष्ट है कि प्रत्येक खिलाड़ी को यूएई में आइसोलेशन में रहना होगा। हालांकि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी पहले ही बायो-बबल में होंगे, क्योंकि वे वहां सीरीज खेलेंगे। अगर वे उस बायो-बबल में बने रहते हैं तो हम एक चार्टर विमान भेज सकते हैं तो वे भी अन्य खिलाडिय़ों की तरह ही सुरक्षित होंगे।’

कोविड-19 जांच प्रक्रिया से गुजरना होगा
उन्होंने टीम के यूएई रवाना होने की पूर्व संध्या पर पत्रकारों के साथ बातचीत में कहा, कि उन्हें वहां पहुंचने के बाद कोविड-19 जांच प्रक्रिया से गुजरना होगा। उनके मामले में यह जांच और सख्त होगी। सुरक्षा से कोई समझौता नहीं होगा।Ó

ट्रेनिंग शुरू करने से पहले आइसोलेशन की मांग
अगर चीजें योजना के अनुसार रहीं तो खिलाड़ी शायद अपनी टीम के शुरुआती मैच के लिए भी उपलब्ध हो सकेंगे, नहीं तो छह दिन के आइसोलेशन के कारण ऐसा नहीं हो पाएगा। आठ टीमों ने अपने खिलाडिय़ों के लिए ट्रेनिंग शुरू करने से पहले तीन दिन के आइसोलेशन की मांग की थी, लेकिन बोर्ड उनकी इस बात पर सहमत नहीं हुआ।