December 3, 2020

राजस्थान में उद्योगों को प्रोत्साहित करने के लिए कवायद

उत्तर पश्चिम रेलवे तथा भारतीय उद्योग परिसंघ के बीच मीटिंग

जयपुर, 7 नवम्बर। कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न हुई परिस्थितियों को मद्देनजर रखते हुए वर्तमान परिपेक्ष में राजस्थान में उद्योग धन्धों तथा इण्डस्ट्रीज को प्रोत्साहित करने के लिए उत्तर पश्चिम रेलवे तथा भारतीय उद्योग परिसंघ जयपुर चैप्टर के मध्य वर्चुअल बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में मुख्य अतिथि महाप्रबंधक, उत्तर पश्चिम रेलवे आनन्द प्रकाश थे तथा बैठक को महाप्रबंधक के साथ ही अपर महाप्रबंधक-उत्तर पश्चिम रेलवे अरूणा सिंह तथा भारतीय उद्योग परिसंघ की ओर से विशाल बैद, चैयरमेन एवं नितिन गुप्ता व संजय साबू ने सम्बोधित किया। इस वर्चुअल बैठक का उद्देश्य रेलवे के साथ व्यापार करना था। महाप्रबंधक-उत्तर पश्चिम आनन्द प्रकाश ने अपने सम्बोधन में कहा कि कोरोना के संक्रमण के कारण यह समय चुनौतियों का है तथा हमें इसके हिसाब से अपनी कार्यप्रणाली को परिवर्तन करके कार्य करना है, विगत समय में रेलवे की कार्यप्रणाली में बदलाव भी आया है और अब इसको ध्यान में रखकर ही कार्य किये जा रहें हैं। कोरोना के कारण आए बदलाव को रेलवे ने अलग योजना बनाकर कार्य किया जिसमें अपने आधारभूत ढ़ाचे को मजबूत करने पर कार्य किया। रेलवे पर दोहरीकरण और विद्युतीकरण के कार्य बहुत तेजी से किए जा रहे है, इनके पूर्ण होने से रेल संचालन से जुडी गतिविधियों में तेजी आएगी और राजस्थान में बिजनेस इकाईयों को भी इसका लाभ मिलेगा। आनन्द प्रकाश ने कहा कि इण्डस्ट्रीज भी अपने आप को रेलवे की जरूरतों के अनुसार तैयार करें, जिससे रेलवे के साथ उनका सामंजस्य बेहतर हो सके। उन्होंने रेलवे के साथ बिजनस के अवसरों पर भी व्यापक चर्चा की तथा बताया कि रेलवे पर विद्युतीकरण का कार्य सम्पूर्ण उत्तर पश्चिम रेलवे पर किया जा रहा है तथा इसके साथ ही सौर ऊर्जा का उपयोग करने के लिए सोलर पैनल लगाने के कार्य का भी विस्तारीकरण किया जा रहा है, इन कार्यों के फलस्वरूप पर्यावरण संरक्षण होगा। साथ ही रोजगार के अवसर भी उत्पन्न हुए है। प्रकाश ने बताया कि रेलवे में माल लदान यातायात एक नया बिजनेस बना है, कोरोना संक्रमण के कारण जब यात्री ट्रेनों का संचालन सीमित संख्या में किया जा रहा है तो रेलवे ने माल लदान को बढ़ाने के लिए विशेष ध्यान केन्द्रित किया है। रेलवे पर माल लदान के इस नए बिजनेस का लाभ इण्डस्ट्रीज को भी उठाना चाहिए और अपने व्यापार को रेलवे के माध्यम से बढ़ा सकते है।