October 28, 2020

राजस्व बढ़ाने और अवैध गतिविधियों पर प्रभावी रोक की सख्त हिदायत

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 7 अक्टूबर। खान एवं पेट्रोलियम विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. सुबोध अग्रवाल ने रॉयल्टी ठेकों से सरकार के राजस्व को बढ़ाने और बजरी के अवैध निर्गमन व अवैध खनन पर रोक की प्रभावी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। उन्होंने 1037 करोड़ के 106 रॉयल्टी ठेकों की ई-नीलामी प्रक्रिया से पुराने प्रतिभागियों के साथ ही नए प्रतिभागियों को प्रोत्साहित कर आगे लाने के निर्देश दिए है, ताकि ठेकों की नीलामी से प्रतिस्पर्धात्मक दरें प्राप्त हो और अधिक राजस्व प्राप्त हो सकें। डॉ. सुबोध अग्रवाल मंगलवार को सचिवालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से खान विभाग के फिल्ड अधिकारियों से रुबरु हो रहे थे। उन्होंने बताया कि जून माह से ही प्रदेश में इन्हीं महीनों की गत साल की तुलना में अधिक राजस्व प्राप्त होने लगा है, सितंबर, 2019 के 314 करोड़ 75 लाख की तुलना में सितंबर, 20 में 390 करोड़ 27 लाख का राजस्व अर्जित किया है। कोरोना के कारण अप्रेल-मई माह में प्रभावित राजस्व संग्रहण में अब केवल 5.94 प्रतिशत की कमी रही है, जिसे इस माह के अंत तक पूरा कर लिया जाएगा। डॉ. अग्रवाल ने एमनेस्टी योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के निर्देश देते हुए अधिकारियों को सख्त हिदायत दी कि इस योजना के दायरें में आने वाले सभी बकायादारों से सीधे संपर्क कर योजना का लाभ बताते हुए शतप्रतिशत वसूली सुनिश्चित करें। एक मोटे अनुमान के अनुसार एमनेस्टी योजना में 80 करोड़ रुपए की वसूली की संभावना है। उन्होंने कहा कि रेवेन्यू कलेक्सन सेंटर और एक्सेस रेवेन्यू कलेक्सन सेंटरों (आरसीसी, ईआरसीसी) की रवन्ना व्यवस्था को और अधिक चाकचोबंद करने के उपाय खोजे जाए, ताकि छिजत को रोका जा सके।