November 26, 2020

रिलायंस को 15 मिनट में करीब 63 हजार करोड़ रुपए का नुकसान

नई दिल्ली, एजेंसी। रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में गिरावट के कारण आज शेयर बाजार में दबाव देखने को मिल रहा है। खास बात तो ये है कि मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर तीन महीने से भी ज्यादा के निचले स्तर पर आ जाने से 15 मिनट के कारोबार में करीब 63 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है। अगर बात सेंसेक्स की करें तो 39500 अंकों के नीचे कारोबार कर रहा है। जबकि निफ्टी 11600 अंकों पर दिखाई दे रही है। जानकारों की मानें रिलायंस को पेट्रो और रिटेल कारोबार में नुकसान होने से कंसोलिडेट रेवेन्यू और प्रॉफिट में गिरावट देखने को मिली है जिसकी वजह से रिलायंस के शेयरों में गिरावट देखने को मिल रही है।

तीन महीने से भी ज्यादा के निचले स्तर पर कंपनी का शेयर: आज शेयर बाजार के मात्र 15 मिनट के कारोबार में मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर में 4 फीसदी से भी ज्यादा की गिरावट देखने को मिली है। 9 बजकर 30 मिनट में कंपनी का शेयर 4.30 फीसदी की गिरावट के साथ 1960 रुपए के स्तर पर आ गया था। जाकि जुलाई के मिड का स्तर है। अगर बात बीते कारोबारी दिन से तुलना करें तो कंपनी के शेयरों में 94 रुपए की गिरावट देखने को मिल चुकी थी। जिसकी वजह से कंपनी के शेयरों में इतना फर्क देखने को मिला। अगर बात शुक्रवार के शेयरों की करें तो 2054 रुपए पर बंद हुआ था।

63 हजार करोड़ रुपए का नुकसान: इस दौरान कंपनी के शेयरों में भारी गिरावट के कारण मुकेश अंबानी की रिलायंस को भारी नुकसान उठाना पड़ा। कंपनी का बीएसई में मार्केट कैप काफी नीचे तक आ गया। अगर बात आंकड़ों की करें तो शुक्रवार को जब शेयर बाजार बंद हुआ था तो कंपनी का मार्केट कैप 13,89,159.20 करोड़ रुपए था, जो सोमवार को 9 बजकर 30 मिनट पर 13,26,442.65 करोड़ रुपए पर आ गया। यानी इस दौरान कंपनी के मार्केट कैप से करीब 63 हजार करोड़ रुपए साफ हो गए।

अक्टूबर से ही देखने को मिल रही है बुरी हालत
बीते एक महीने की करें तो कंपनी के शेयरों में काफी गिरावट देखने को मिल रही है। 9 अक्टूबर के बाद से अब तक कंपनी के शेयरों में 270 रुपए से ज्यादा की गिरावट देखने को मिल चुकी है। 9 अक्टूबर को जब बाजार बंद हुआ था तो कंपनी का मार्केट कैप 2236 रुपए था। वहीं बात कंपनी के मार्केट कैप की बात करें तो तब से लेकर अब तक कंपनी को करीब 1.84 लाख करोड़ रुपए का नुकसान उठाना पड़ चुका है। अब अंदाजा लगा सकते हैं कि मुकेश अंबानी को कितना नुकसान हो चुका है।