November 30, 2020

वेनिस की तर्ज पर खूबसूरत होगा उदयपुर

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 6 नवम्बर। पूरब के वेनिस के रूप में प्रसिद्ध उदयपुर को अब वेनिस की तर्ज पर विकसित और खूबसूरत बनाए जाने की योजना है। वेनिस की तरह यहां खूबसूरत झीलें और ऐतिहासिक इमारतें मौजूद हैं। उसी तरह सभी झीलें नहरों या नदी के माध्यम से जुड़ी हैं, लेकिन इन्हें विकसित करने के लिए पहली बार विशाल स्तर पर योजना बनाई गई है। इसके लिए 49 करोड़ रुपये का बजट जारी किया गया है, जो यहां की आयड़ नदी की खूबसूरती पर खर्च होंगे। चालीस साल से उदयपुर के लिए विभिन्न राजनीतिक दलों के लिए चुनावी मुद्दा रहा आयड़ नदी का विकास अगले साल फरवरी से होने की संभावना जताई गई है। जिसके लिए जल्द ही टेंडर आम़ंत्रित किए जाएंगे। स्मार्ट सिटी, नगर विकास प्रन्यास तथा नगर निगम मिलकर आयड़ नदी के विकास के लिए काम करेगी और अठारह महीनों में पूरा होने की उम्मीद जताई जाप रही है। उदयपुर शहर के बीच से निकलने वाली 26 किलोमीटर लंबी आयड़ नदी के विकास के तहत पहले चरण में पांच किलोमीटर क्षेत्र को लिया गया है, जिसके बीच वाटर चैनल, वॉक-वे, गेबियन वॉल, कोयर मैट समेत दूसरे बड़े काम होंगे। आयड़ नदी के सुधार पर 75 करोड़ रुपये का अनुमानित खर्च माना जा रहा था और इसकी टेंडर प्रक्रिया में 17 ठेकेदारों ने भाग लिया। उदयपुर की एक फर्म इसे 49.19 करोड़ मेें ही करने को तैयार है और जल्द ही उसे काम सौंपने की तैयारी है।

आयड़ नदी दिखेगी खूबसूरत
आयड़ नदी के हाल फिलहाल किसी गंदे नाले से कम नहीं हैं। नदी में जगह-जगह कीचड़, गंदगी और केमिकलयुक्त काला पानी ही देखने को मिलता है। इसके विकसित होने के बाद नदी के बीच पांच मीटर चौड़ा वाटर चैनल बनेगा। उसमेें मानसून के बाद भी साफ पानी भरा रहेगा। नदी के दोनों किनारों पर गेबियन वॉल बनाई जाएगी। कोयर मेट भी बनेगी, ताकि किनारे खूबसूरत दिखें। नदी पेटे में बिजौलिया स्टोन लगाकर घास लगाई जाएगी। कुछ जगह वॉक वे बनेगा और कुछ जगह नदी किनारे पौधरोपण किया जाएगा।