November 23, 2020

शहरी सरकार का समर : हेरिटेज में मतदान जारी

पहले चरण में जयपुर हैरिटेज के 100, जोधपुर उत्तर के 80 और कोटा उत्तर के 70 (कुल) 250 वार्र्डों के लिए वोटिंग

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 29 अक्टूबर। जयपुर हैरिटेज, जोधपुर उत्तर और कोटा उत्तर नगर निगमों में प्रथम चरण के चुनाव के लिए मतदान आज सुबह 7.30 बजे शुरू हो गया। अब तक के समाचारों के अनुसार सभी केंद्रों पर मतदाता शांति पूर्वक मतदान करने लाइनों में लगे हैं। मतदान शाम 5.30 बजे तक होगा। चुनाव आयुक्त पीएस मेहरा ने निगमों के मतदाताओं से कोरोना संबंधी सभी दिशा-निर्देशों की पालना के साथ सुरक्षित और शांतिपूर्ण मतदान की अपील की है। मतगणना 3 नवंबर को प्रात: 9 बजे से होगी।
मेहरा ने कहा कि पहले चरण में जयपुर हैरिटेज के 100,जोधपुर उत्तर के 80 और कोटा उत्तर के 70 (कुल) 250 वार्र्डों के लिए मतदान हो रहा है। उन्होंने बताया कि जयपुर में 430, जोधपुर में 296 और कोटा में 225 (कुुल 951) उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला मतदाता करेंगे। पहले चरण में 2761 मतदान केंद्रों पर मतदान करवाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए मतदान केंद्रों की संख्या में भी इजाफा किया गया है और मतदान समय को भी आधा घंटा अधिक बढ़ाया है ताकि मतदाता भीड़ का हिस्सा बने बिना अपने मताधिकार कर सकें।

16 लाख से ज्यादा मतदाता
मेहरा ने बताया कि प्रथम चरण में 250 वार्डों के 2761 मतदान केंद्रों पर 16 लाख 54 हजार 547 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। इसमें जयपुर हैरिटेज के 100 वार्डों के 9 लाख 32 हजार 908 मतदाताओं में 4 लाख 91 हजार 633 पुरुष, 4 लाख 41 हजार 260 महिला व 15 अन्य, जोधपुर उत्तर के 80 वार्डों के 3 लाख 88 हजार 847 मतदाताओं में से 1 लाख 99 हजार 505 पुरुष, 1 लाख 89 हजार 339 महिला व 3 अन्य और कोटा उत्तर के 70 वार्डों के 3 लाख 32 हजार 792 मतदाताओं में से 1 लाख 70 हजार 959 पुरुष, 1 लाख 61 हजार 831 महिला व 2 अन्य मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे।

ऑनलाइन मदद
मेहरा ने कहा कि मतदाता मतदान से पहले मतदान केंद्र से जुड़ी सभी जानकारी आयोग की वेबसाइट या मतदाता सहायता सेवा के जरिए भी जान सकते हैं। मतदाता वेबसाइट पर नाम द्वारा या इपिक कार्ड के नंबर द्वारा भी मतदाता सूची में स्वयं का नाम एवं संबंधित मतदान केंद्र की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

3 हजार 393 ईवीएम
मेहरा ने बताया कि प्रथम चरण में 3 हजार 393 ईवीएम मशीनों के द्वारा चुनाव करवाए जा रहे हैं। सभी निकायों में लगभग 30 प्रतिशत मशीनें रिजर्व में रखी गई हैं। दिव्यांग मतदाताओं की मदद के लिए आयोग ने विशेष व्यवस्था है। मतदान केन्द्रों पर दिव्यांगजनों की मदद के लिए स्थानीय स्तर पर स्काउट गाइडए एनएसएस और एनसीसी के वोलेंटियर लगाए जाएंगे। कई निकायों पर दिव्यांगजनों को एवं उनके सहायकों को घर से लाने ले जाने के लिए भी परिवहन की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास रहेगा कि हर दिव्यांग मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सके।

बूथ पर सेनेटाइजर: जयपुर में कई जगह उम्मीदवारों ने मतदान केंद्र के बाहर बनाए बूथ पर अपने स्तर पर सेनेटाइजर की व्यवस्था की। इन बूथों पर किसी भी प्रकार की प्रचार सामग्री नहीं रखी गई। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग के साथ कोरोना प्रोटोकॉल की कड़ाई से पालना की गई।

बिना मास्क प्रवेश नहीं: केंद्र में बिना मास्क के प्रवेश नहीं दिया गया। मतदान केंद्र में जाने से पहले हाथों को सेनेटाइज किया गया । मतदान के समय मतदाता पंक्ति में खड़े रहने के दौरान चिन्हित गोलों पर खड़े रहकर या सामाजिक दूरी बनाते हुए अपनी बारी का इंतजार करते दिखेें। मतदान के दौरान सीनियर सिटीजन और दिव्यांगजनों को प्राथमिकता दी गई।